Afzal Guru

अफजल गुरू को क्‍यों बनाया बलि का बकरा, जांच हो- महेश भट्ट की एक्‍ट्रेस पत्‍नी सोनी राजदान की मांग

ट्वीट करते हुए सोनी राजदान ने लिखा कि “यही न्याय की कमी है। यदि वह निर्दोष है तो फिर कौन उस आदमी को वापस लेकर आएगा, जो मर चुका है।”

क्या संसद भवन हमले में शामिल थे देविन्दर सिंह, आखिर क्यों उठ रहे सवाल?

जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि देविन्दर सिंह अपने कर्म की वजह से ही पकड़े गए हैं। इस बार मुझे नहीं लगता कि कोई भी उन्हें बचा सकता है।

अफजल गुरु के बेटे ने कहा- विदेश में पढ़ने के लिए पासपोर्ट चाहिए पर 6 साल से नहीं मिला

अफजल गुरु के बेटे गालिब का आधार कार्ड बन गया है। ऐसे में अब गालिब अब भारतीय पासपोर्ट बनवाकर आगे की पढ़ाई करना चाहता है।

अफजल गुरु के अवशेष कश्मीर वापस लाने के पक्ष में महबूबा मुफ्ती! सांसद लिख चुके हैं चिट्ठी

कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने विवादित बयान देते हुए कहा कि अफजल गुरू को फांसी नहीं होनी चाहिए थी।अफजल की फांसी रोकने के लिए हमने राष्ट्रपति को पत्र लिखा था।

सांसद ने मोदी को खत लिखकर की मांग- वापस किए जाएं तिहाड़ में दफन अफजल गुरु के अवशेष

मकबूल बट की मौत की 35वीं बरसी पर सांसद मीर ने यह खत पीएम मोदी को लिखा है। मीर को 11 फरवरी 1984 को तिहाड़ में फांसी दी गई थी।

जेएनयू राष्ट्रद्रोह मामला: गांधीनगर की फोरेंसिक जांच में सही निकले चार वीडियो

संसद हमले के दोषी अफजल गुरु की फांसी के विरोध में बीते नौ फरवरी को जेएनयू परिसर में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था और उसमें कथित तौर पर भारत विरोधी नारेबाजी की गई थी।

JNU ने कन्हैया कुमार पर लगाया 10 हजार फाइन, उमर खालिद को 1 सेमिस्टर के लिए हटाया गया

JNU में देश विरोधी नारेबाजी के मामले में जेल जा चुके छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर यूनिवर्सिटी ने 10 हजार रुपए का फाइन लगाया है।

कन्हैया, उमर की हत्या के लिए पक्की हुई थी 10 लाख डील, एडवांस देने के लिए जानी ने लिया लोन

देशद्रोह के आरोपी जेएनयू छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार को जान से मारने की धमकी के केस में एक और नया खुलासा हुआ है। पुलिस सूत्रों की मानें तो कन्हैया कुमार और उमर खालिद को मारने के लिए नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष अमित जानी और जेएनयू के दो छात्रों के बीच दस लाख रुपए की डील की थी।

अफजल गुरु विवाद: एक और शोध छात्र ने जेएनयू पर फेलोशिप रोकने का लगाया आरोप

रामा नागा ने कहा, ‘‘अब छात्रावास वार्डेन की ओर से एक नोटिस है कि अगर बिल का भुगतान नहीं किया गया तो हमें खाना नहीं दिया जाएगा।’’

देशद्रोह का मामला: अदालत ने गिलानी का फोन वापस देने की याचिका को किया नामंजूर

अदालत ने शहर की पुलिस को इस मामले में जब्त की गयी गिलानी की कार और अन्य चीजों को छोड़ने का निर्देश दिया।

जेएनयू में दाखिले के लिए आवेदनों की संख्या में आई कमी

यह पूछे जाने पर कि आवेदनों की संख्या में कमी आने का संबंध क्या हालिया विवाद से है, अधिकारी ने कहा कि हाल के वर्षों में तीन से चार हजार आवेदनों का उतार चढ़ाव होता रहा है।

असहमति का सवाल

हमें याद रखना चाहिए कि वैचारिक असहमति ही भारतीय लोकतंत्र की सुंदरता है और यह हमारा संवैधानिक अधिकार भी है।

जानिए 2002 के गुजरात दंगों और 1984 के सिख दंगों पर क्या बोले JNU छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया

जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने विश्वविद्यालयों में हो रहे कथित हमलों की तुलना गुजरात दंगों से करते हुए आरोप लगाया कि दोनों को सरकारी मशीनरी के ‘समर्थन से’ अंजाम तक पहुंचाया जा रहा है।

भारत माता की जय पर संघ और शिवसेना आमने-सामने

‘भारत माता की जय’ नारे को लेकर छिड़ी बहस के बीच संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने सोमवार यहां कहा कि यह नारा किसी पर थोपने की आवश्यकता नहीं है

गुजरातः BJP ने किसान रैली में चलाया उमर खालिद और अफजल गुरु का Video

दो एलईडी स्क्रीन पर दिखाए गए खालिद के वीडियो का कैप्शन था, ‘जेएनयू कैम्पस में वे भारत को तोड़ने के नारे लगाने की हिम्मत कैसे कर सकते हैं?’

JNU row: जवाब देने के लिए मिला 48 घंटे का और समय

जवाहर लाल नेहरू (जेएनयू) में अफजल गुरु पर हुए कार्यक्रम विवाद पर उच्चस्तरीय समिति की रिपोर्ट पर विश्वविद्यालय प्रशासन ने नोटिस भेजे गए छात्रों को जवाब देने के लिए 48 घंटे का समय और दिया है।

अफजल गुरु विवाद: कन्हैया समेत पांच छात्रों को जेएनयू से निकालने की सिफारिश

जेएनयू ने अफजल गुरु की फांसी के विरोध में परिसर में हुए विवादित कार्यक्रम के संबंध में छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार सहित आठ छात्रों का शैक्षणिक निलंबन 11 मार्च को वापस लिया था।

अफजल गुरु विवाद: जेएनयू की उच्च-स्तरीय समिति ने सौंपी रिपोर्ट, छात्रों का निलंबन वापस लिया गया

विश्वविद्यालय ने 12 फरवरी को आठ छात्रों को निलंबित कर दिया था। समिति की शुरुआती रिपोर्ट के आधार पर विश्वविद्यालय ने आठ छात्रों को शैक्षणिक गतिविधियों में हिस्सा लेने से रोक दिया था