1984 Anti Sikh Riots

दोनों तरफ अधजली लाशें, गले में टायर डालकर सिखों को जलाती भीड़- पत्रकार ने याद किया सिख दंगों का मंजर

वरिष्ठ महिला पत्रकार तवलीन सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा कि सब याद है जरा, जरा मुझे भी। हालांकि, रजत शर्मा के ट्वीट पर लोगों ने उन्हें ट्रोल भी किया।

‘ये छोटा केस नहीं’, कहकर सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी कांग्रेस नेता की जमानत याचिका, सिख दंगों के हैं मुख्य आरोपी

कोर्ट ने कहा कि सज्जन कुमार की मेडिकल रिपोर्ट में कहा गया है कि उन्हें अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत नहीं है ऐसे में कोर्ट उनकी इस याचिका को भी खारिज करता है।

सिख दंगा केस: सज्जन कुमार को जनानत देने से SC का इनकार, कोर्ट बोला- ‘जुलाई में आइएगा देखेंगे’

कांग्रेस के पूर्व सांसद सज्जन कुमार को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं मिली है। मंडोली जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे सज्जन कुमार ने खराब स्वास्थ्य के आधार पर जमानत की गुहार लगाई थी।

1984 दंगाः बोला पैनल, ‘ऐक्शन लेने में Congress सरकार ने नहीं दिखाई कोई रुचि’; 498 केसों पर सिर्फ 1 FIR, 1 अफसर

1984 Anti Sikh Riots Case: एसआईटी रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि दंगों के वक्त सिख यात्रियों को दिल्ली में रेलवे स्टेशनों पर ट्रेनों से बाहर निकालकर मारा गया, पर पुलिस ने किसी को भी मौके से यह कहते हुए नहीं बचाया कि उनकी संख्या बेहद कम थी।

1984 दंगा केसः केंद्र ने स्वीकारी जस्टिस ढींगरा की रिपोर्ट, SC से कहा- दोषी पुलिसवालों पर लेंगे ऐक्शन

याचिका में 1984 सिख विरोधी दंगों में नामजद 62 पुलिसकर्मियों की भूमिका की जांच करने की मांग की गई है।

VIDEO: राजीव गांधी का बयान BJP नेता ने दिलाया याद, तो भड़के पैनलिस्ट, बोले- पल्ला झाड़ लिया था अटल जी ने, CM मोदी को उठा फेंक देना था

मनमोहन सिंह के बयान के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने दंगों के लिए राजीव गांधी को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि ‘राजीव गांधी ने बाद में यह कहकर दंगों का समर्थन किया कि जब बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है।’

मनमोहन सिंह के बयान पर पूर्व पीएम के पोते ने जताई नाराजगी- बिना कैबिनेट मंजूरी कैसे बुलाते सेना? लोग पूर्व पीएम पर मार रहे ताने

मनमोहन सिंह ने कहा कि तत्कालीन गृहमंत्री पीवी नरसिम्हा राव ने अगर इंद्र कुमार गुजराल की सलाह पर अमल किया होता तो इन दंगों को टाला जा सकता था। मनमोहन सिंह के इस बयान पर पूर्व पीएम के पोते ने नाराजगी जताई है।

सीएम कमलनाथ की बढ़ी मुश्किलें, 1984 दंगों के केस में बयान दर्ज कराने SIT के पास पहुंचा गवाह

मामला एक नवंबर, 1984 को गुरुद्वारा रकाब गंज में भीड़ द्वारा सिखों की हत्या से जुड़ा है।

सरकार ने 312 विदेश सिख नागरिकों का नाम ब्लैक लिस्ट से हटाया, भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का था शक

जांच एजेंसियों ने प्रतिकूल यानी एडवर्स सूची का रिव्यू किया और लिस्ट में 312 लोगों के नाम हटा दिए। अब इस सूची में सिर्फ 2 लोगों के ही नाम बचे हैं।

1984 के सिख विरोधी दंगों से जुड़े सात मामले SIT ने फिर खोले, बढ़ सकती हैं कमलनाथ की मुश्किलें

गृह मंत्रालय की अधिसूचना के मुताबिक एसआईटी ने समीक्षा या प्रारंभिक जांच के लिए उन मामलों को लिया है जिसमें आरोपी बरी हुए थे। सिख विरोधी दंगों से जुड़े सात मामले 1984 में वसंत विहार, सन लाइट कालोनी, कल्याणपुरी, संसद मार्ग, कनॉट प्लेस, पटेल नगर और शाहदरा पुलिस थानों में दर्ज किए गए थे।

गृह मंत्रालय की हरी झंडी के बाद फिर खुलेगी 1984 सिख दंगे की फाइल, कमलनाथ की बढ़ सकती हैं मुश्किलें

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को सिख दंगे में संदिग्ध भूमिका के लिए हमेशा कटघरे में विरोधी पार्टियां खड़ी करती रही हैं। अब गृहमंत्रालय ने 1984 के सिख विरोधी दंगे की फाइल दोबारा खोलने की हरी झंडी दे दी है।

BJP सांसद हंसराज हंस ने 1984 के सिख दंगों के लिए नेहरू को बताया जिम्मेदार, JNU का नाम मोदी पर रखने की दे चुके हैं सलाह

भाजपा सांसद ने कहा नेहरू के शासन काल में ही कश्मीरियों, सिख, सूफी और पंडित सभी को परेशानी झेलनी पड़ी। उन्होंने कहा कि जो कुछ भी हुआ, नेहरू के खून के शासनकाल में ही हुआ।

दंगों के आरोपी को कांग्रेस ने पहली कतार में दी जगह, विपक्ष ने खोला मोर्चा

शिरोमणि अकाली दल के विधायक मनजिन्दर सिंह सिरसा ने बुधवार को हुए एक कार्यक्रम के दौरान 1984 सिख विरोधी दंगे के आरोपी जगदीश टाइटलर को पहली पंक्ति में बैठाने को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा।

जेल में सिख कैदियों से दूर रखे जाएंगे, सलाखों के पीछे सज्जन कुमार का यूं बीता पहला दिन

कुमार को दक्षिण-पश्चिमी दिल्ली की पालम कॉलोनी के राज नगर पार्ट-1 क्षेत्र में एक-दो नवंबर 1984 को पांच सिखों की हत्या और राज नगर पार्ट-दो में एक गुरुद्वारा जलाने के मामले में दोषी ठहराते हुए सजा सुनाई गई थी।

सज्जन कुमारः …इसलिए तिहाड़ नहीं मंडोली सेंट्रल जेल में रहेगा नरसंहार का दोषी, 1984 में मारे गए थे 2700 सिख

सुरक्षा के लिहाज से मंडोली देश की सबसे अच्छी जेलों में शुमार है। यह जेल अक्टूबर 2016 में ही बनकर तैयार हुई। 340 करोड़ की लागत से बनी इस जेल में 3776 कैदियों को रखे जाने की क्षमता है।

1984 सिख विरोधी दंगे : एक और मामले में 22 को आएगा फैसला, बढ़ सकती हैं सज्जन कुमार की मुश्किलें

1984 सिख विरोधी दंगों के एक और मामले की सुनवाई आज (गुरुवार को) पटियाला हाउस कोर्ट में होनी थी, लेकिन मुख्य वकील अनिल शर्मा उपस्थित नहीं हुए। ऐसे में अदालत ने सुनवाई स्थगित कर दी। इस मामले का फैसला 22 दिसंबर को सुनाया जाएगा।

1984 सिख विरोधी दंगा : सज्‍जन कुमार ने छोड़ी कांग्रेस, राहुल गांधी को भेजा इस्‍तीफा

1984 के सिख विरोधी दंगों में दोषी करार दिए गए सज्जन कुमार ने मंगलवार को राहुल गांधी को पत्र लिखकर कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। दिल्ली हाईकोर्ट ने सोमवार को पूर्व सांसद सज्जन कुमार को उम्रकैद की सजा सुनाई थी।

1984 सिख विरोधी दंगे: गवाहों ने लिया था कमलनाथ का नाम, आयोग ने कहा- दोषी ठहराना संभव नहीं

सिख विरोधी दंगे की जांच के लिए गठित नानावती आयोग ने संसद के समीप गुरुद्वारा रकाबगंज पर हमले की जांच के दौरान पाया साक्ष्य ये बताता है कि वे भीड़ में देखे गए थे लेकिन बेहतर साक्ष्य के अभाव में यह कहना संभव नहीं है कि उन्होंने ने किसी तरह से भीड़ को उकसाया या वे गुरुद्वारे पर हमले में शामिल थे।

यह पढ़ा क्या?
X