सपा नेता ने BJP के अल्पसंख्यक नेता की पिटाई की, धरने पर बैठे पार्टी के विधायक; CCTV में कैद हुई मारपीट की घटना

आरोप है कि नगरपालिका चेयरमैन प्रतिनिधि और सपा नेता हाजी राजा ने अपने गनर और समर्थकों के साथ मिलकर भाजपा के प्रदेश अल्पसंख्यक मीडिया प्रभारी को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा।

BJP Leader Attacked in Fatehpur
bjp leader attacked in fatehpur (Photo- Social Media)

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर में समाजवादी पार्टी के नेता द्वारा भाजपा के एक नेता की पिटाई करने का मामला सामने आया है। मारपीट का ये पूरा मामला सीसीटीवी में कैद हुआ है। आरोप है कि नगरपालिका चेयरमैन प्रतिनिधि और सपा नेता हाजी रजा ने अपने गनर और समर्थकों के साथ मिलकर भाजपा के प्रदेश अल्पसंख्यक मीडिया प्रभारी को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा।

इस वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होते ही फतेहपुर पुलिस हरकत में आ गई। इस हाई-प्रोफाइल मामले में सपा नेता समेत 5 नामजद और 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ डकैती, लूटपाट सहित कई संगीन धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया।

जैसे ही इस घटना की जानकारी सदर विधायक को लगी तो विक्रम सिंह अपने समर्थकों के साथ पहुंचे और उन्होंने कोतवाली का घेराव कर किया। उन्होंने सपा नेता समेत अन्य आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की। धरने पर बैठे भाजपा विधायक विक्रम सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि भाजपा के प्रदेश अल्पसंख्यक मीडिया प्रभारी पर जानलेवा हमला हुआ है। उन्होंने कहा कि हमला करने वाले लोग समाजवादी पार्टी से संबंध रखते हैं और आपराधिक पृष्ठभूमि के हैं। इस मामले में उन्होंने आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की।

भाजपा नेता ने की हाजी रजा की गिरफ्तारी की मांग

वहीं, पीड़ित भाजपा नेता ने अपने बयान में कहा, ”मेरी मुस्लिम समाज में बढ़ती लोकप्रियता देख यहां का भू-माफिया और हिस्ट्रीशीटर हाजी रजा और उनके समर्थकों ने अवैध असलहों का प्रदर्शन करते हुए मुझे बुरी से पीटा और कहा कि भाजपा समर्थन करते हुए दिखाई दिए तो जान से मार दूंगा।” भाजपा ने पुलिस से जल्द से जल्द हाजी रजा को गिरफ्तार करने की मांग की।

एक आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

पूरे मामले में सीओ सिटी ने बताया कि सदर कोतवाली क्षेत्र में 22 नवम्बर को फैजान रिजवी के साथ हुई मारपीट के संबंध में नगरपालिका चेयरमैन प्रतिनिधि हाजी रजा और उनके समर्थकों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है और इस मामले में एक आरोपी जुनेद को गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा एसपी ने पूरे मामले में नगरपालिका चेयरमैन प्रतिनिधि के गनर को दोषी मानते हुए निलंबित कर दिया है और चौकी इंचार्ज को लाइनहाजिर कर दिया है। साथ ही चौकी इंचार्ज के निलंबन की कार्यवाही के लिए इस संबंध में आईजी को पत्र लिखा है।

पढें उत्तरप्रदेश समाचार (%e0%a4%89%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%a4%e0%a4%b0%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%a6%e0%a5%87%e0%a4%b6 News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट