ताज़ा खबर
 

दुनिया के पहले हेड ट्रांसप्‍लांट के लिए तैयार यह शख्‍स, सर्जरी के बारे में जल्‍द खुलासा करेंगे डॉक्‍टर

मांसपेशी से जुड़ी एक बीमारी से ग्रस्त 31 साल के वैलेरी चल-फिर नहीं पाते और व्हीलचेयर पर ही रहते हैं।
रूस के रहने वाले वैलेरी एक कंप्यूटर साइंटिस्ट हैं। (REUTERS)

जल्द ही दुनिया का पहला ह्यूनम हेड ट्रांसप्लांट होने जा रहा है। इस ट्रांसप्लांट की जानकारी डॉक्टर फ्रैंकेस्टीन के नाम से मशहूर सर्जन कानावेरो अगले महीने देंगे। वैलेरी स्पिरिडोनोव वह पहले मरीज होंगे जिनका हेड ट्रांसप्लांट किया जाएगा। मांसपेशी से जुड़ी एक बीमारी से ग्रस्त 31 साल के वैलेरी व्हीलचेयर पर ही रहते हैं और ऑपरेशन के बाद चल-फिर सकेंगे।

डॉक्टर फ्रैंकेस्टीन ने बताया कि यह ऑपरेशन अगले महीने किया जाएगा। रूस के रहने वाले वैलेरी एक कंप्यूटर साइंटिस्ट हैं, जो इस सर्जरी के लिए पूरी तरह तैयार हैं। वैलेरी ने बताया कि उनके सर्जन सितंबर में इस ऑपरेशन से जुड़ी पूरी जानकारी लोगों से साझा करेंगे, और यह दुनिया का पहला ह्यूनम हेड ट्रांसप्लांट होगा।

कैसे होगा ट्रांसप्लांट-

वैलेरी ने बताया कि सर्जरी में उनका सिर काट दिया जाएगा और उसे एक स्वस्थ शरीर पर लगा दिया जाएगा। इटली के सर्जन डॉक्टर सर्जियो कानावेरो के हाथ में इस जटिल और ऐतिहासिक सर्जरी की कमान होगी। डॉक्टर सर्जियो कानावेरो काफी विवादों में रहने वाले शख्सियत हैं, हालांकि वैलेरी का कहना है कि उन्हें अपने सर्जन पर पूरी भरोसा है और वह अपनी जान का जोखिम लेने के लिए तैयार हैं। इस ऑपरेशन को लेकर तारीख और जगह का खुलासा तो नहीं किया गया, मगर अंदाजा लगाया जा रहा है कि यह दिंसबर 2017 में हो सकता है।

Read More: 78 की उम्र में भी Iron Lady से कम नहीं Iron Man मिलिंद सोमन की मां, साड़ी पहन मिलिंद के बराबर दौड़ीं

कौन हैं वैलेरी स्पिरिडोनोव-

वैलेरी जन्म से ही दुर्लभ बीमारी वेर्डनिग हॉफमैन (Werdnig-Hoffman) से पीड़ित हैं। शारीरिक मांसपेशियां खराब कर देने वाली इस बीमारी में इंसान चल-फिर नहीं पाता और उसे सांस लेने और निगलने में दिक्कत होती है। काफी हद तक विकलांगता के शिकार वैलेरी उस समय दुनिया भर में चर्चा का विषय बने गए जब उन्होंने इस ऑपरेशन के लिए हामी भरी। उनका कहना है, “मैं मरने से पहले खुद को इस बीमारी से छुटकारे का एक मौका देना चाहता हूं। ये मेरा अंतिम फैसला है और मैं पीछे नहीं हटूंगा।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग