June 23, 2017

ताज़ा खबर
 

टॉयलेट में फंसा महिला का हाथ, बुलानी पड़ी इमरजेंसी सर्विस, कमोड को घर से बाहर लाकर निकाला हाथ

एक दिन ग्रेसी का हाथ टॉयटेल कमोड में फंस गया और काफी मशक्कत के बाद उनका हाथ बाहर निकाला गया।

(Photo Source: Inside Edition Video)

क्या हो अगर किसी का हाथ टॉयलेट में फंस जाए, कुछ ऐसी ही घटना टैक्सास में रहने वाली महिला ग्रेसी हेन्डर्सन के साथ घटी। एक दिन ग्रेसी का हाथ टॉयटेल कमोड में फंस गया और काफी मशक्कत के बाद उनका हाथ बाहर निकाला गया। ग्रेसी के साथ हुई इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। ग्रेसी के साथ यह हादसा 12 अप्रैल को हुआ जब वह अपने नए घर में शिफ्ट हुई थीं।

हफिंग्टन पोस्ट की रिपोर्ट में ग्रेसी के हवाले से लिखा गया है जिस दिन उन्होंने घर शिफ्ट किया था एक वाटर पाइप फट गया था। सामने गार्डन में उनकी कार मिट्टी में फंस गई थी। उनके नए लॉन मूवर ने काम करना बंद कर दिया था। इसके बाद उन्होंने देखा कि फ्लश में कुछ दिक्कत आ रही थी। ग्रेसी ने देखा की टॉयलेट भी बंद पड़ा है। उस दौरान घर पर कोई नहीं था और न ही उनके पास ऐसी कोई वस्तु थी जिससे वह अपनी बंद पड़े टॉयलेट को खोल सके।

इसके बाद ग्रेसी ने सोचा कि कमोड में कुछ अटक गया है तो वह उसे अपने हाथ से निकाल लेगी। इसके बाद जैसे ही ग्रेसी ने अपना हाथ टॉयलेट कमोड में डाला तो उनका हाथ वहीं अटक गया। उन्होंने हाथ को बाहर निकालने की काफी कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हो पाई। इसके बाद ग्रेसी ने घर पर इमरजेंसी मेडिकल सर्विस को बुलाया। इसके बाद मेडिकल सर्विस का दस्ता पहुंचा। दस्ता टॉयलेट को उखाड़कर घर से बाहर गार्डन में ले आया। इस दौरान ग्रेसी का हाथ टॉयलेट में ही फंसा हुआ था।

गार्डन में कमोड को गार्डन में इमरजेंसी मेडिकल दस्ते ने तोड़ा और फिर ग्रेसी का हाथ बाहर निकाला। हाथ निकलने के बाद देखने को मिला कि उन्होंने हाथ में एक कड़ा पहना हुआ था, जो कि कमोड में अटक गया। कमोड से हाथ बाहर निकलने के बाद ग्रेसी काफी खुश नजर आ रही थीं।

वीडियो: मेरठ: हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने प्रेमी जोड़े के साथ की बदसलूकी, घर से घसीटकर ले गए पुलिस थाने

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on April 20, 2017 1:21 pm

  1. No Comments.
सबरंग