ताज़ा खबर
 

वायरल हो रहा नरेंद्र मोदी, योगी आद‍ित्‍य नाथ की फोटो पर जूते बरसाती इस महिला का वीडियो

इस वीडियो को अभी तक हजारों लाइक मिल चुके हैं और साथ ही लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ। (फाइल फोटो)

केंद्र और उत्तर प्रदेश दोनों में ही बीजेपी की सरकार है। देश में लोकसभा चुनावों से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी रैलियों में जनता को भरोसा दिलाया था कि अच्छे दिन आएंगे और केंद्र में बीजेपी की सरकार बन गई थी। ऐसा ही उत्तर प्रदेश में भी जनता को भरोसा दिलाया गया कि अच्छे दिन आएंगे और राज्य में बीजेपी ने जीत हासिल कर योगी आदित्यनाथ को सूबे का मुख्यमंत्री बना दिया। वहीं अब लगता है कि यूपी में बस सरकार द्वारा अच्छे दिन लाने की बात कही गई थी लेकिन जनता से किए गए वादे पूरे नहीं किए गए जिसका गुस्सा अब स्थानीय लोग मोदी और योगी के सूबे में लगे पोस्टर पर उनकी जूते से पिटाई करके अपना गुस्सा निकाल रहे हैं।

इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक महिला को योगी और मोदी के पोस्टर को जूते से पीटते हुए दिखाया जा रहा है। देखने में तो यह महिला मानसिक रुप से बीमार लग रही है लेकिन इस बारे में हम कुछ नहीं कह सकता कि यह महिला सच में मानसिक रूप से बीमार है या यह सरकार के खिलाफ गुस्से का असर है। इस वीडियो को अभी तक हजारों लाइक मिल चुके हैं और साथ ही लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर डाले गए इस वीडियो पर एक यूजर ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि मानसिक रूप से बीमार महिलो को भी पता चल गया कि अच्छे दिन नहीं आने वाले, मैं तो यह सोचकर हैरान हूं कि आखिर भक्तों के दिमाग में भरा क्या है। एक ने लिखा बहुत ही अच्छा तरीका है चप्पल पूजा करने का, हर-हर मोदी, घर-घर योगी। एक ने लिखा कि ईवीएम की तरह हर किसी को देश में अपने कंट्रोल में नहीं कर सकते, शुक्र है खुदा का कि यह महिला मानसिक तौर पर बीमार है वरना बुद्धिजीवी भक्त राष्ट्र के नाम पर इसे पीट-पीटकर मार देते। एक ने लिखा यह सच्चाई प्रत्येक भारतीय के अंदर छिपी है लेकिन किसी में सामने आकर आवाज़ उठाने की हिम्मत नहीं है।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. S
    Sunil Kumar
    Jun 28, 2017 at 1:23 pm
    जनसत्ता वाले भी मानसिक विछिप्त है। दिन भर मोदी के खिलाफ कुछ न कुछ डालते रहते है। यही हाल रहा तो जनसत्ता पढ़ना बन्द।
    (0)(0)
    Reply