ताज़ा खबर
 

जब चश्मा, जूते और खाकी वर्दी पहने इस डॉगी ने बचाई थी 52 लोगों की जान, लोगों ने माना फरिश्ता

19 सितंबर 2017 को मेक्सिको में भूकंप के बाद फ्रीडा ने 52 लोगों की जान बचाई थी। फ्रीडा वायुसेना की 15 कुत्तों की टीम में शामिल है। भूकंप के बाद इसे मेक्सिको के एक स्कूल में लाया गया था।
मेक्सिको में भूकंप के बाद फ्रीडा ने 52 लोगों की जान बचाई थी।

कई पेट्स लोगों के मददगार माने जाते हैं। लोगों के बीच रहकर पेट्स भी भावनाओं को समझते हैं और उनकी मदद करते हैं। इस मामले में कुत्तों को काफी समझदार माना जाता है। लेकिन आज हम आपको ऐसे डॉगी(कुत्तिया) के बारे में बता रहे हैं जो 52 लोगों के लिए एक फरिश्ते की तरह आई और उनकी जान बचा ली। जी हां, एक कुत्तिया ने करीब 52 लोगों की जान बचाई थी, यकीन करना मुश्किल है लेकिन यही सच है।

दरअसल 19 सितंबर 2017 को मेक्सिको में भूकंप आया था, जिसमें भारी नुकसान के साथ-साथ 245 लोगों की जान चली गई और 2000 से ज्यादा लोग प्रभावित हुए थे। इस भूकंप की तीव्रता 7.1 हेक्टेयर मापी गई थी। इस भूकंप के दौरान लोग तो एक दूसरे की मदद कर ही रहे थे लेकिन एक डॉगी ने ऐसा कारनामा कर दिखाया जोकि लोगों के लिए मिसाल बन गया। फ्रीडा को मध्य और उत्तरी अमेरिका में आपदाओं के दौरान हैती, इक्वाडोर और होंडुरास में बचाव अभियान में शामिल किया गया था।

आंखों पर चश्मा, चेस्ट पर खाकी रंग का कोट और जूते पहने 6 साल की गोल्डन लैब्राडोर डॉगी भूकंप से प्रभावित लोगों के लिए फरिश्ते की तरह थी, जिसका नाम फ्रीडा है। दरअसल फ्रीडा वायुसेना की 15 कुत्तों की टीम में शामिल है। भूकंप के बाद इसे मेक्सिको के एक स्कूल में लाया गया था।

बता दें कि इससे पहले फ्रीडा को भूकंप-प्रभावित राज्य ओएक्साका में भी नियुक्त किया गया था। फ्रीडा ने इस भूकंप में 52 लोगों का जान बचाई है और इसी वजह लोगों ने इसका शुक्रिया भी किया था।

फ्रीडा के इस कारनामें के बाद उसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थीं। वहीं ट्विटर पर भी फ्रीडा को शुक्रिया कहने वालों की कमी नहीं थी। एक व्यक्ति ने तो अपने हाथ पर फ्रीडा का कार्टून तक बनवा लिया था। सोशल मीडिया पर कई ऐसी तस्वीरें भी देखी गई हैं जिनमें लोगों ने अपने अपने देश की मुद्रा पर फ्रीडा की फोटो प्रिंट की हुई हैं। इस प्रकार से 52 लोगों की भूकंप में जान बचाने वाली इस डॉगी ने इंटरनेट पर खलबली मचा रखी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग