ताज़ा खबर
 

VIDEO: जवानों की सहनशीलता के हो जाएंगे कायल, कश्मीरी युवाओं ने मारी लात फिर भी नहीं दिया जवाब

हमारे जवान कितने सहिष्णु है इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि कश्मीरी युवाओं का यह ग्रुप उनके साथ हिंसा कर रहा है और वह बंदुक लिए होने के बावजूद भी कोई प्रतिक्रिया नहीं दे रहे हैं।
सोशल मीडिया पर वायरल हुआ सीआरपीएफ जवान की पिटाई का वीडियो। (Photo Source: Videograb/Facbook:Kashmir news 24×7)

सरहद पर और देश के अंदर शांति, सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए आंतकियों से लड़ने वाले सुरक्षाबलों को अपने देश के अंदर भी विरोध का सामना करना पड़ता है और तो और उनके साथ मारपीट तक होती है। कश्मीर घाटी में बीते दिनों केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों को आतंकियों से लड़ने से पहले अपने ही लोगों (स्थानीय लोग) की हिंसा और गुस्सा का सामना करना पड़ता है। ऐसा ही एक वीडियो सामने आया है, जिसमें कुछ कश्मीरी युवक सीआरपीएफ जवान की लात से पिटाई कर रहे हैं। उनके साथ हाथापाई तक कर रहे, लेकिन जवानों ने उनकी इन हरकतों का कोई जवाब नहीं दिया।

हमारे जवान कितने सहिष्णु है इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि कश्मीरी युवाओं का यह ग्रुप उनके साथ हिंसा कर रहा है और वह बंदुक लिए होने के बावजूद भी कोई प्रतिक्रिया नहीं दे रहे हैं। वह चुपचाप वहां से निकलते जा रहे हैं। यह वीडियो श्रीनगर में हुए चुनाव के दौरान का बताया जा रहा है। जब जवान चुनावी ड्यूटी से वापस लौट रहे थे। बता दें कि श्रीनगर लोकसभा उप चुनाव के दौरान हुई हिंसा में आठ लोगों की मौत हो गई थी। वोटिंग के दौरान कई जगहों पर सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी की। कई जगहों पर हिंसक भीड़ ने मतदान केंद्रों पर हमला कर दिया। सैकड़ों ईवीएम को तोड़ दिया गया।

वीडियो में नजर आ रहा है कि कश्मीरी युवकों का झुंड जवान के साथ मारपीट करता है। वान के पैर पर लात मारी गई और इसका हेलमेट गिर गया। जवान ने शांति से अपना हेलमेट उठाया और चलता रहा है। यही नहीं एक जवान की लातों से पिटाई भी कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल हो गया है। 24 घंटे से भी कम समय में करीब 20 हजार लोग इसे शेयर कर चुके हैं। वहीं, सीआरपीएफ जवान के साथ किए गए बर्ताव को लेकर कश्मीरी युवाओं की आलोचना भी कर रहे हैं।

किरण रिजिजू ने कहा- जवानों की मौत पर जश्न मनाते हैं ये वामपंथी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग