December 06, 2016

ताज़ा खबर

 

विपक्ष के हंगामे पर भड़के ट्विटर यूजर्स,कहा- नोटबंदी के खिलाफ 200 एकजुट हुए आतंकवाद के खिलाफ 20 भी नहीं खड़े होते

जो लोग नोटबंदी के फैसले को ठीक बताते हैं और विपक्ष के प्रदर्शन को गलत बताते हैं। वे #विपक्ष_की_दाढ़ी_में_तिनका पर ट्वीट कर रहे थे।

#विपक्ष_की_दाढ़ी_में_तिनका ट्विटर पर टॉप ट्रेंड कर रहा था।

नोटबंदी के बाद से मोदी सरकार का विरोध हो रहा है। लोग सड़कों से लेकर सोशल मीडिया तक पर सरकार और उसके नोटबंदी वाले फैसले के खिलाफ बोल रहे हैं। लेकिन कुछ लोग मोदी सरकार के समर्थन में भी हैं। ये वे लोग हैं जो नोटबंदी के फैसले को ठीक बताते हैं और विपक्ष के प्रदर्शन को गलत बताते हैं। कुछ ऐसे ही लोग शुक्रवार (25 नवंबर) को #विपक्ष_की_दाढ़ी_में_तिनका पर ट्वीट कर रहे थे। एक ने लिखा, ‘विपक्ष रोज नए नोटों में नई नई गलतियां खोज कर ला रहा है,आज ही कोई कह रहा था कि गांधी जी के चश्मे का नंबर गलत है’, दूसरे ने लिखा, ‘मोदी ने तैयारी नहीं की, ये आलोचना का विषय है और मोदी ने तैयारी करने नहीं दी ये सारी समस्या की जड़ है!’, एक ने मनमोहन सिंह पर निशाना साधते हुए लिखा, ‘मनमोहन सिंह ने नोटबन्दी को ‘संगठित लूट’ बताया क्योंकि उनके ज़माने में तो ‘एकाधिकार लूट’ का फैशन था’, एक ने मायावती पर निशाना साधते हुए लिखा, ‘जिसके हाथी ने लोकसभा चुनाव में अंडा दिया आज वो चुनाव करवाना चाहती हैं समझ सकते हैं दर्द UP चुनाव के लिए फंड नहीं है’, एक ने लिखा, ‘मोदी सरकार पाकिस्तान, आतंकवादा, नक्सलवाद, कालेधन और भ्रष्टाचार से लड़ रही है वहीं विपक्ष सिर्फ सरकार से लड़ने में व्यस्त है।’ दूसरे ने लिखा कि मोदी को संसद में देखते ही विपक्ष के नेता संसद से नौ दो ग्यारह हो गए थे।

मोदी सरकार द्वारा 8 नवंबर को नोटबंदी का एलान किया गया था। मोदी द्वारा किए गए एलान में कहा गया था कि 30 दिसंबर के बाद से 500 और 1000 रुपए के नोट अमान्य हो जाएंगे। लोगों से उनके नोटों को बैंकों में जमा करने के लिए कहा गया था। हालांकि, कुछ जगहों पर नोटों को चलाने की इजाजत मिली थी। जिसे 24 नवंबर यानी कल के बाद से बंद कर दिया। अब सिर्फ 500 रुपए के नोट ही चल सकते हैं। वह भी सिर्फ 15 दिसंबर तक। वहीं 1000 के नोटों को अब बैंक में ही जमा करवाना होगा।

बैंकों और एटीएम के बाहर लगी लाइन खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। आम लोगों के अलावा विपक्षी दल भी सरकार को निशाने पर लेने का मौका नहीं छोड़ रहे। संसद में शीतकालीन सत्र की कार्यवाही भी इस वजह से नहीं हो पा रही। आठ दिन से संसद में हंगामे के अलावा कोई काम नहीं हुआ है। विपक्षी दल लगातार पीएम मोदी को संसद में आकर बहस करने की चुनौती दे रहे हैं।

देखिए #विपक्ष_की_दाढ़ी_में_तिनका पर कैसे-कैसे ट्वीट आ रहे हैं –

इस वक्त की बाकी ताजा खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

वीडियो: पंजाब में बोले पीएम मोदी- “पाक जाने वाला बूंद-बूंद पानी रोककर किसानों को देंगे”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 25, 2016 3:54 pm

सबरंग