ताज़ा खबर
 

वीडियो: जंगल में शेरों ने घेर ली टूरिस्टों की गाड़ी, एक ने सामने से रोकी, दूसरे ने किया कार पर हमला

वीडियो में आगे दिखाई देता है कि गाड़ी आगे बढ़ जाती है, जिसके बाद शेर उसका पीछा करता है और थोड़ी दूर जाने के बाद गाड़ी फिर से रुकती है। हालांकि बाद में गाड़ी निकल जाती है और शेर पीछे निकल जाता है।
Author बेंगलुरु | February 1, 2017 10:53 am
शेर ने किया गाड़ी पर हमला। (Photo Source: Facebook)

बेंगलुरु के बानेरघट्टा बॉयोलॉजिकल पार्क (बीबीपी) में दो शेरों ने एक सफारी कार पर हमला कर दिया। हालांकि इस हमले में किसी के घायल होने की जानकारी नहीं मिली है। यह दूसरी बार है जब सफारी गाड़ी पर शेरों का अटैक हुआ। यह सफारी बस नहीं है बल्कि एक इनोवो कार है, जिसका इस्तेमाल ज्यादा पैसे खर्च करने वाले सैलानी करते हैं। इस घटना का वीडियो मंगलवार को कुछ स्थानीय चैनलों पर सामने आया है। वीडियो को गाड़ी के पीछे चल रही सफारी बस के ड्राइवर ने शूट किया है। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि दो शेर गाड़ी से कुछ दूरी पर खड़े हैं। एक शेर गाड़ी के आगे आ जाता है और गाड़ी रूक जाती है। इसी दौरान उसका साथी शेर घूमते हुए गाड़ी के पीछे की तरह आ जाता है। पहले शेर गाड़ी पर पिछले हिस्से पर पंजा मारता है। इसके बाद वह गाड़ी पर हमला कर देता है। इस दौरान गाड़ी में मौजूद लोग यह देखकर डर जाते हैं और उनकी चीख निकल आती है। उनकी चीख को वीडियो में सुना जा सकता है।

वीडियो में आगे दिखाई देता है कि गाड़ी आगे बढ़ जाती है, जिसके बाद शेर उसका पीछा करता है और थोड़ी दूर जाने के बाद गाड़ी फिर से रुकती है। हालांकि बाद में गाड़ी निकल जाती है और शेर पीछे निकल जाता है। यह घटना 28 या 29 जनवरी की बताई जा रही है। इस घटना की फोटोज और वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। यह पहली घटना है इससे पहले भी इसी पार्क में सफारी गाड़ी पर शेरों का हमला हुआ था। पिछले साल सितंबर में 3 शेरों ने सफारी कारों को रोका फिर हमला किया। दो अलग-अलग गाड़ियों में सफर कर रहे ट्रैवलर्स को पहले तो दो शेरों ने रोका और फिर कार के अंदर जाने की कोशिश की, फिर चारों ओर घूमते रहे। इसके बाद गाड़ी पर हमला कर दिया था।

बन्नेरघट्टा नेशनल पार्क बेंगलुरु शहर से 22 किलोमीटर दूर है। ये बंगलुरु के लोगों के लिए और इसके आसपास रहने वालों के लिए सबसे आम टूरिस्ट प्लेस है। 2002 में इसके 731.88 हेक्टेयर हिस्से में बायोलॉजिकल रिजर्व स्थापित किया गया था। जिसे बन्नेरघट्टा बायोलॉजिकल पार्क के नाम से जाना जाता है। इसमें एक जू, पशु बचाव केंद्र, बटरफ्लाई पार्क, स्नेक हाउस और एक सफारी पार्क है। बीबीपी से जुड़े एक जानवरों के डॉक्टर का कहना है कि इसमें कुछ भी असामान्य नहीं है। शेर हो या फिर सफारी में मौजूद कोई भी जानवर हो जिज्ञासा वश गाड़ी का पीछा करता है।


देखें वीडियो:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.