December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

VIDEO: भैसे ने शेर को बनाया ‘बिल्ली’, मार-मारकर किया बुरा हाल

वीडियो में दिखाई दे रहा है कि भैसे और शेर की जंग में अचानक से भैसों का पूरा झुंड शामिल हो जाता है। भैस को बचाने के लिए वह शेर पर सींग से हमला करते हैं।

भैसे पर शेर ने किया हमला। (Photo Source: Videograb)

इंसानों की तरह जानवरों को भी जीवित रहने के लिए बहुत संघर्ष करना होता है। उनके सामने अक्सर जान का खतरा मंडरा रहता है। इस तरह के घटनाओं के वीडियो भी लगातार सामने आते रहे हैं। ऐसा ही एक शेर और भैसे की खूनी लड़ाई का वीडियो सामने आया है। आमतौर पर धारणा है कि शेर तकातवर जानवर है और भैसे का शिकार करना उसके लिए आसान होगा। लेकिन वीडियो में जो कुछ दिखा वह हैरान कर देने वाला था। वीडियो में दिखाई देता है कि शेर अपने शिकार पर हमला कर देता है और अपने जबड़े में भैसे का चेहरा दबा लेता। जान बचाने के लिए भैसा लगातार अपनी गर्दन छुड़ाने की कोशिश करता है। दोनों में खूनी जंग जारी है। भैसा अपने सींग और खुरों से शेर पर हमला करता है। हमले के कारण शेर घायल हो जाता है।

वीडियो में दिखाई दे रहा है कि भैसे और शेर की जंग में अचानक से भैसों का पूरा झुंड शामिल हो जाता है। भैस को बचाने के लिए वह शेर पर सींग से हमला करते हैं। शेर पस्त नजर आ रहा है और जमीन पर बैठ जाता। इसके बाद भैस शेर पर सींग से हमला करता है। शेर को देखकर नहीं लगता है कि उसके अंदर अब लड़ने की हिम्मत बची है, वह बुरी तरह से पस्त हुआ नजर आ रहा है। वहीं, एक दूसरा भैसा शेर के पेट पर सींग से वार करता है। इसके बाद शेर जमीन पर गिर जाता है और नहीं उठता। हालांकि इस क्लिप में नहीं दिखाया गया है कि लहूलुहान शेर जिंदा बचता है या नहीं। यह वीडियो दक्षिण अफ्रीका के केन्या के कुरुगर नेशनल पार्क का बताया जा रहा है।

गौरतलब है कि हाल ही में प्लेनेट अर्थ -2 का एक वीडियो सामने आया था, जिसमें जगुआर और मगरमच्छ की लड़ाई दिखाई गई थी। मगरमच्छ को पानी के अंदर बहुत शक्तिशाली माना जाता है। कहा जाता है कि पानी के अंदर वो विशाल हाथी को भी गिरा सकता है, लेकिन जगुआर के साथ हुई लड़ाई में जो कुछ नजर आया वह हैरान करने लायक था। जगुआर मगरमच्छ पर हमला करता है और उसके पानी से बाहर निकालकर उसका सिर कुचल देता है। बाद में वह अपने जबड़े में दबाकर उसे ले जाता है।

वीडियो: शेर को भारी पड़ा भैसे से टकराना

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 22, 2016 12:37 pm

सबरंग