ताज़ा खबर
 

रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति बनने पर आशुतोष ने किया ऐसा कमेंट कि लगने लगे जातिवाद के आरोप

आशुतोष के इस ट्वीट को लेकर लोगों ने उनपर जमकर हमला किया। राहुल नाम के एक यूजर ने लिखा- "शर्मिंदगी की बात है कि आप एक दलित राष्ट्रपति की तुलना दलित राष्ट्रपति से ही कर रहे हैं।"
आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता आशुतोष। ( File Photo)

एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद गुरुवार को भारी मतो से विजयी हुई। रामनाथ देश के 14वें राष्ट्रपति होंगे। कोविंद की जीत के साथ ही उन्हें बधाई देने वाले का तंता लग गया है। पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह समेत कई माननीय लोगों ने उन्हें देश के सर्वोच्च पद पर बैठने के लिए बधाई दी। पत्रकार रहे और आम आदमी पार्टी (AAP) नेता आशुतोष ने भी उन्हें बधाई देते हुए ट्वीट किया। हालांकि उनके ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उन पर जमकर निशाना साधा। यही नहीं लोगों ने आशुतोष पर जातिवादी होने का आरोप भी लगाया। आशुतोष ने अपने ट्वीट में लिखा- उम्मीद है कि कोविंद जी उस परंपरा और गरिमा को नई ऊंचाई देंगे जो नारायणन साहब ने स्थापित किया।

आशुतोष के इस ट्वीट को लेकर लोगों ने उनपर जमकर हमला किया। राहुल नाम के एक यूजर ने लिखा- “शर्मिंदगी की बात है कि आप एक दलित राष्ट्रपति की तुलना दलित राष्ट्रपति से ही कर रहे हैं।” विक्रम नाम के एक यूजर ने लिखा- “क्यों, मुखर्जी साहब ने किस गरिमा की पुंगी बजा दी जो नारायणन ही याद आ गए तुम्हें… यहां भी दलित दलित खेल गए तुम… बड़े हो जाओ यार!” विनय नाम के शख्स ने लिखा- “क्या नारायणन साहब के अलावा और किसी राष्ट्रपति ने परंपरा और गरिमा को स्थापित नहीं किया।” अमित कुमार ने लिखा- “आपका मानसिक स्तर कितना गिर चुका है ये ट्वीट इस बात का सबूत है. राजनीति की मलाई देख कर पत्रकारीता को छोड़ने वाले किस मुँह से बोलते हो.”

बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए रामनाथ कोविंद को एनडीए का उम्मीदवार बनाए जाने के बाद से ही दलित राजनीति की चर्चा तेज हो गई थी। इसके बाद विपक्षी दलों ने भी वही रास्ता अपनाते हुए पूर्व स्पीकर मीरा कुमार को उम्मीदवार बनाया था। उन्हें दलित की बेटी बताकर समर्थन जुटाने की कोशिश की जा रही थी। हालांकि, इस चुनाव में कोविंद का जीत लगभग तय था। गुरुवार को आए नतीजे भी इसी ओर इशारा करते हैं। राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को सात लाख दो हजार 644 वोट मिले हैं। वहीं मीरा कुमार को तीन लाख 66 हजार 314 वोट मिले हैं। रामनाथ कोविंद को 65.35 प्रतिशत वोट मिले, मीरा कुमार को 34.35 प्रतिशत वोट मिले। मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को खत्म हो रहा है। देश के 14वें राष्ट्रपति 25 जुलाई को पद की शपथ लेंगे।

देश के दूसरे दलित राष्ट्रपति बने रामनाथ कोविंद

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग