ताज़ा खबर
 

श‍िवसेना नेता संजय राउत बोले पप्‍पू नहीं रहे राहुल गांधी, टि्वटर यूजर्स ने कहा-आपमें और उनमें कोई अंतर नहीं

राउत के इस बयान पर उन्हीं की खिल्ली उड़ गई। सोशल मीडिया पर लोगों ने कहा कि वह कांग्रेस का पप्पू हैं, तो आप शिवसेना के पप्पू हैं।
शिवसेना सांसद संजय राउत ने गुरुवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को लेकर टिप्पणी की थी, जिस पर सोशल मीडिया यूजर्स ने उनके और शिवसेना के मजे ले लिए।

शिवसेना के नेता संजय राउत ने कहा है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अब पप्पू नहीं रहे। कांग्रेस ने उनके भीतर एक नेता खोज लिया है। राउत के इस बयान पर उनकी और शिवसेना की खिल्ली उड़ गई। सोशल मीडिया पर लोगों ने कहा कि आपमें और उनमें कोई नहीं है। वह कांग्रेस का पप्पू हैं, तो आप शिवसेना के पप्पू हैं। एक शख्स ने लिखा कि यह नोटबंदी का असर है, जो वह राहुल के कसीदे पढ़ने लगे। वहीं, आगे एक और यूजर ने लिखा कि आप पहले अपनी सोचिए। बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) में आपकी भी नहीं चलती है। हुआ यूं कि गुरुवार को राउत ने टि्वटर पर एक ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, “तीन साल पहले राहुल गांधी को पप्पू कहा जाता था, लेकिन अब स्थिति वैसी नहीं है। कांग्रेस पार्टी ने उनके अंदर एक नेता तलाश लिया है।”

फिर क्या था, यूजर्स भी तेजी से अपनी प्रतिक्रियाएं जाहिर करने लगे। ये रहे वे ट्वीट्स जिनमें लोगों ने उनके मजे लिए-

राउत ने इससे पहले कहा था कि राहुल देश का नेतृत्व करने में सक्षम हैं। देश में नरेंद्र मोदी लहर खत्म हो चुकी है। जीएसटी को लेकर गुजरात के लोगों में काफी गुस्सा है, जिससे दिसंबर में होने वाले विस चुनाव में भाजपा को कड़ी टक्कर का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने एक टीवी चैनल की बहस में हिस्सा लेते हुए यह बयान दिया। कहा, ‘कांग्रेस नेता राहुल गांधी देश का नेतृत्व करने में सक्षम हैं। उन्हें ‘पप्पू’ बोलना गलत है।’ इस टीवी बहस में राज्य शिक्षा मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता विनोद तावड़े भी मौजूद थे। साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भारी बहुमत हासिल करने वाली भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए सांसद ने कहा, ‘इस देश में सबसे बड़ी शक्ति जनता… मतदाता हैं। वो किसी को भी पप्पू बना सकते हैं।’

राउत ने आगे कहा, ‘2014 के लोकसभा चुनाव में मोदी लहर थी, लेकिन यह लहर खत्म हो चुकी है। जीएसटी लागू होने के बाद गुजरात में जिस तरह से लोग प्रदर्शन कर रहे हैं, उससे लगता है कि भाजपा को चुनाव में कड़ी टक्कर मिलेगी।’ राउत के ये बयान गुजरात विस चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद आए हैं। नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में शिवसेना का कोई बेस नहीं है, ऐसे में उसने अपना समर्थन पाटिदार नेता हार्दिक पटेल को दिया है। हार्दिक पटेल ने इस साल शिवेसना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मुलाकात की थी। गुजरात में विधानसभा चुनाव 9 और 14 दिसंबर को दो चरणों में होंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.