ताज़ा खबर
 

तेजस्वी का ताना- नीतीश पर चढ़ा भाजपाई रंग, तभी तो ऑक्सीजन की कमी से बिहार में भी मरने लगे बच्चे

तेजस्वी ने नीतीश कुमार की नैतिकता पर वार करते हुए लिखा है, "नीतीश जी बिहार के अस्पतालों मे बच्चे और लोग मार रहे है। इसपर आपकी अंतरात्मा नहीं जागती क्या?
नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव। (FILE PHOTO)

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और विधान सभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने मुजफ्फरपुर अस्पताल में हुई मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर ताना मारा है और कहा है कि मुख्यमंत्री पर भाजपा का रंग चढ़ चुका है। सोशल मीडिया ट्विटर पर ताबड़तोड़ एक के बाद एक कई ट्वीट कर तेजस्वी ने पूछा है कि नीतीश जी आपकी नैतिकता कहां चली गई, जब राज्य के बच्चे ऑक्सीजन की कमी से मर रहे हैं। तेजस्वी ने लिखा है, “नीतीश जी पर भाजपा का रंग चढ़ चुका है तभी तो ऑक्सीजन की कमी से बिहार के अस्पतालों में भी बच्चें मरने लग गए हैं।”

तेजस्वी ने दूसरे ट्वीट में लिखा है, “नीतीश जी चेहरा चमकाने में लीन हैं जबकि मुज़फ्फरपुर में ऑक्सीजन से कई बच्चों की मौत और दरभंगा में Expiry ब्लड चढ़ाने से 8 की मौत हो चुकी है।” उन्होंने दूसरे ट्वीट में लिखा, “8 लोगों की मौत गलत खून या एक्सपाइरी खून चढाने से हुई है। लाल खून के इस काले कारोबार पर नीतीश सरकार नैतिकता रूपी कुंभकर्णी नींद में है।”

तेजस्वी ने नीतीश कुमार की नैतिकता पर वार करते हुए लिखा है, “नीतीश जी बिहार के अस्पतालों मे बच्चे और लोग मार रहे है। इसपर आपकी अंतरात्मा नहीं जागती क्या? मासूमों की मौत पर आपकी नैतिकता कहाँ छुप जाती है?”

सृजन घोटाले पर भागलपुर में रविवार (10 सितंबर) को एक जनसभा करने ट्रेन से जा रहे तेजस्वी ने सृजन मामले में भी नीतीश पर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा है, “चार बार नीतीश कुमार जी ने #सृजन घोटाले पर जाँच होने से रोक दिया, वरना इसका पर्दाफ़ाश 10 साल पहले ही हो गया होता।” #SrijanExposesNitish  तेजस्वी ने दूसरे ट्वीट में लिखा, “नीतीश जी के इशारों पर छोटे-छोटे कर्मियों की गिरफ्तारी दिखाकर बड़ी मछलियों को बचाया जा रहा है।सबूत मिटाए जा रहे है। गवाहों को मारा जा रहा है।” आगे लिखा, “सृजन घोटाले के गढ़ भागलपुर को प्रस्थान कर चुके हैं।सृजन के गढ़ से ही सृजन घोटाले के सृजनकर्ताओं या सृजन के दुर्जनों का पर्दाफाश करेंगे।”

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.