December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

Video: अश्वेत को ताबूत में लेटाकर दोस्त से बोला- इसपर पेट्रोल छिड़क दो या ताबूत में एक सांप डाल दो

साउथ अफ्रीका का एक वीडियो सामने आया है। वीडियो में एक श्वेत शख्स को एक अश्वेत शख्स पर अत्याचार करते हुए दिखाया गया है।

1990 से अबतक 1,600 अश्वेत किसानों का मर्डर हो चुका है। इसके अलावा 3,000 बार अश्वेत लोगों को हमला कर निशाना बनाया जा चुका है।

साउथ अफ्रीका का एक वीडियो सामने आया है। वीडियो में एक श्वेत शख्स को एक अश्वेत शख्स पर अत्याचार करते हुए दिखाया गया है। वीडियो में दिखाया गया है कि श्वेत शख्स दोस्त के साथ मिलकर अश्वेत शख्स को एक ताबूत में लेटा रहा होता है। इसके साथ ही वे दोनों उसको ताबूत में पूरा लेटाकर उसको पूरी तरह से बंद करने की कोशिश करते भी दिख रहे हैं। अंग्रेजी वेबसाइट द सन के मुताबिक, वे लोग अपनी भाषा में ‘इसपर थोड़ा पेट्रोल छिड़क दो’ ‘ताबूत में एक सांप डाल दो’ कह रहे होते हैं। माना जा रहा है कि अत्याचार कर रहा शख्स उस अश्वेत शख्स का मकान मालिक होगा। वीडियो में लोग जुलु भाषा बोल रहे हैं। वह भाषा साउथ अफ्रीका के किसान लोग आमतौर पर बोलते हैं। यह वीडियो यू ट्यूब के जरिए लोगों के बीच पहुंचा। साउथ अफ्रीका में ऐसी घटनाएं आम होती जा रही हैं।

वीडियो के सामने आने के बाद भी वहां के कई लोग सोशल मीडिया पर अश्वेत लोगों पर हुए अत्याचार को सही ठहरा रहे थे। पुलिस भी ऐसी घटनाओं को अंजाम देने वालों को ढूंढने में नाकाम रहती है। अफ्रीका में इस साल की जनवरी से अबतक नस्लवाद से संबंधित शिकायतों की संख्या 160 के पार है। 1990 से अबतक 1,600 अश्वेत किसानों का मर्डर हो चुका है। इसके अलावा 3,000 बार अश्वेत लोगों को हमला कर निशाना बनाया जा चुका है।

आंकड़ों के मुताबिक, अफ्रीका में पुलिस वाले से ज्यादा खतरनाक एक अश्वेत किसान होना है। इसके लिए कई बार यूएन में भी शिकायत दर्ज करवाई जा चुकी है। अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस भी नस्लवाद विरोधी कानून पास करावने की कोशिशों में लगी है। उसमें दोषी पाए जाने पर कड़ी सजा होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 8, 2016 4:04 pm

सबरंग