February 20, 2017

ताज़ा खबर

 

गर्लफ्रेंड की तरह इमोशनल ब्लैकमेल करते हैं PM, मोदी के भाषण पर सोशल मीडिया पर लोगों ने चुटकी

ट्विटर पर अमेरिका के तर्ज पर #notmypm भी रविवार को ट्रेंड कर रहा था।

Author नई दिल्ली | November 14, 2016 06:36 am
गोवा के मोपा में ग्रीनफील्ड एअरपोर्ट की आधारशिला रखने के दौरान जनसभा को संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (PTI Photo/PIB/13 Nov, 2016)

सरकार के नोट बंदी के फैसले को 5 दिनों से ज्यादा का समय बीत चुका है। अभी तक नए नोट बैंकों के माध्यम से लोगों को ठीस से नहीं मिल पा रहे हैं। जनता बैंकों और एटीएम के आगे खड़े खड़े बेबस है। ऐसे में सरकार ने लोगों को हो रही समस्या को ध्यान में रखते हुए नोट बदलने और कैश निकालने की सीमा में थोड़ी बढ़ोतरी की है। रविवार को वित्त मंत्रालय ने नोट बदलने की सीमा को 4000 से बढ़ाकर 4500 रुपए प्रतिदिन कर दी है। वहीं अब सप्ताह में 20000 की जगह 24000 रुपए निकाल पाएंगे।

एटीएम से पैसे निकालने की सीमा को 2000 रुपए से बढ़ाकर 2500 रुपए प्रतिदिन कर दी गई है। वित्तमंत्रालय ने रविवार को बताया, ‘सभी बैंकों को सलाह दी गई है कि एटीएम से एक दिन में 2000 रुपए निकालने की सीमा को 2500 रुपए, सप्ताह में अकाउंट से 20 हजार रुपए निकालने की सीमा को 25 हजार रुपए और नोट बदलने की सीमा को 4000 रुपए से 4500 रुपए किया जाए। इसके साथ ही कहा गया है कि एक दिन में चेक से केवल 10 हजार रुपए निकालने की सीमा को खत्म किया जाए।’ इसके अलावा गोआ से बोलते हुए प्रधानमंत्री ने 50 दिन का वक्त मांगा है।

साथ ही वादा किया है कि इसके बाद जनता जैसा चाहती है वैसा भारत वो बनाकर देंगे। लगभग सभी राजनैतिक पार्टियां सरकार के इस फैसले के खिलाफ खड़ी हो गई हैं। विपक्ष की पार्टियां आने वाले शीतकालिन सत्र के लिए सरकार को चुनौती देने के लिए व्यापाक साठ गाठ कर रही है। ऐसे में देश में आने वाले 50 दिन राजनीति और आर्थिक दोनों ही लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण होने जा रहे हैं। ट्विटर और दूसरे सोशल मीडिया पर लोग सरकार के इस फैसला पर मिलीजुली प्रतिक्रिया आ रही हैं। ट्विटर पर अमेरिका के तर्ज पर #notmypm भी रविवार को ट्रेंड कर रहा था। पढ़िए ऐसी ही कुछ दिलचस्प प्रतिक्रियाएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 14, 2016 6:36 am

सबरंग