ताज़ा खबर
 

ICJ में पाकिस्तानी जज का समर्थन करने पर सागरिका घोष हुई ट्रोल, ट्विटर यूजर्स ने कहा- तुम्हें तो दर्द होगा ही, पाकिस्तानी एजेंट

इंटरनेशनल कोर्ट की ज्यूरी में शामिल पाकिस्तान मूल के जज पर निष्पक्षता पर सवाल उठाना मशहूर पत्रकार सागरिका घोष को पसंद नहीं आया और उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट करके अपने विरोध जताया।
सागरिका कई चैनलों से जुड़ी रही हैं और टीवी पत्रकार राजदीप की पत्नी हैं।

भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक लगाने के भारत इंटरनेशनल कोर्ट का दरवाजा खटखटा चुका है। भारत और पाकिस्तान दोनों इंटरनेशनल कोर्ट में अपना अपना पक्ष रख चुके हैं। दोनों देशों का पक्ष सुनने के बाद इंटरनेशनल कोर्ट इस मसले पर अपना फैसला सुनाएंगे। इस पूरे मसले पर ज्यूरी में शामिल पाकिस्तान मूल के जज पर निष्पक्षता पर सवाल उठाना मशहूर पत्रकार सागरिका घोष को पसंद नहीं आया और उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट करके अपने विरोध जताया। सागरिका ने ट्विटर पर लिखा  कि, ” इंटरनेशनल कोर्ट की ज्यूरी में शामिल पाकिस्तान जज की निष्पक्षता पर मीडिया क्यों सवाल खड़ा कर रही है।  संसथानों का सम्मान करो, दोस्तो।”

 

सागरिका के जवाब में कई ट्विटर यूजर्स ने जवाब लिखे। एक ट्वीट में लिखा गया कि जब देश के कोर्ट , इलेक्शन कमीशन, ईवीएम, पीएमओ पर सावल किए जा सकते हैं तो पाकिस्तान के जज पर क्यों नहीं। सागरिका के इस ट्वीट के बाद उनकी देशभक्ति पर सवाल खड़े किए गए और उन्हें पाकिस्तान एजेंट तक बता दिया गया। बिलकिस बानो रेप केस के समय न्याय व्यवस्था पर किए गए उनके ट्वीट को भी आधार बनाकर उनकी आलोचना की है। इससे पहले सुनवाई के दौरान पाकिस्तान ने आईसीजे से कहा कि कुलभूषण जाधव की मौत की सजा पर भारत की अर्जी गैर जरूरी और गलत तरीके से की गई व्याख्या वाली बताया। हालांकि कोर्ट ने पाकिस्तान का वीडियो देखने से साफ कर दिया। पाकिस्तान ने आरोप लगाया कि भारत अंतरराष्ट्रीय अदालत का इस्तेमाल अपने राजनीतिक नाटक के लिए कर रहा है।

http://twitter.com/Babu_Bhaiyaa/status/864154479679086593

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. शोम रतूड़ी
    May 16, 2017 at 5:32 am
    सागरिका का यह बोलना जायज है वरना कौन उन्हें बुद्धिजीवी मानेगा,वे बुद्धिजीवी हैं इसीलिए वे अपने देश भारत ,क्यूंकि तकनीकी रूप से वे इसी देश की निवासी हैं और यहीं के पासपोर्ट पर विदेश यात्रायें करती हैं,की हर संवैधानिक संस्थाओं पर ह ा करती हैं अगर सरकार कांग्रेस की न हो.यह जानना भी जरुरी है कि वे कांग्रेस समर्थक क्यूँ हैं क्यूंकि वे उन भाष्कर घोष साहब की बेटी हैं जिन्हें कांग्रेस ने दूरदर्शन का महानिदेशक बनाया था और इसी प्रभाव के बल पर उन्होंने अपनि औसत बुद्धि की बेटी को पत्रकारिता जगत में स्थापित किया.
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग