ताज़ा खबर
 

तो क्या बिंदास लड़कियां खूबसूरत नहीं रह सकतीं? पतंजलि के इस ऐड में है अजीब नकारात्मक सोच

बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि की एक सौंदर्य क्रीम के विज्ञापन पर विवाद खड़ा हो गया है।
बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि की एक सौंदर्य क्रीम के विज्ञापन पर विवाद खड़ा हो गया है। (Photo: Screengrab)

बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि की एक सौंदर्य क्रीम के विज्ञापन पर विवाद खड़ा हो गया है। इस विज्ञापन में दो लड़कियों को बहनों के रूप में दिखाया गया है। जिसमें एक लड़की जिसका नाम सौंदर्या है उसे परंपराओं का पालन करने वाली और दूसरी ऐश्‍वर्या को बिंदास लड़की के रूप में दिखाया गया है। विज्ञापन के अनुसार ऐश्‍वर्या केमिकल से बने ब्‍यूटी प्रॉडक्‍ट का इस्‍तेमाल करती है। इससे उसे पिंपल हो जाते हैं। वहीं सौंदर्या की खूबसूरती बरकरार रहती है। ऐश्‍वर्या का सब मजाक उड़ाते हैं वहीं सौंदर्या की सब तारीफ करते हैं। इस पर सौंदर्या बहन की मदद करती है और उसे पतंजलि की सौंदर्य क्रीम देती है। विज्ञापन के अंत में दिखाया जाता है कि इस क्रीम के इस्‍तेमाल से ऐश्‍वर्या भी अपनी बहन की तरह बेदाग सुंदरता पा लेती है। विज्ञापन को लेकर विवाद इस बात है कि इसमें लड़की के बिंदासपन को गलत तरह से पेश किया गया है। उसके चेहरे पर पिंपल होने को इस तरह दिखाया गया है कि मानो यह सब उसके मॉडर्न होने के कारण हुआ है।कहा जा रहा है कि यह विज्ञापन महिलाओं के आगे बढ़ने को गलत ठहरा रहा है। साथ ही इसमें महिलाओं का चित्रण भी गलत है।

गौरतलब है कि पतंजलि के उत्‍पादों पर पहले भी कई बार सवाल उठाए गए हैं। इनमें गड़बडि़यों के आरोप भी लगे हैं। हालांकि पतंजलि की ओर से इन सब आरोपों से इनकार किया जाता रहा है। पतंजलि की मैगी, घी, शहद की गुणवत्‍ता को लेकर सवालिया निशान वाली रिपोर्ट्स आई हैं।  पतंजलि के संस्‍थापक और प्रचारक बाबा रामदेव इन सब आरोपों को मल्‍टीनेशनल कंपनियों की साजिश बताते हैं। पतंजलि पर भ्रामक विज्ञापनों के चलते जुर्माना भी लग चुका है। पिछले दिनों उसके लिए बिस्‍कुट बनाने वाली कंपनी पर लगभग ढाई लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया था। बता दें कि पिछले साल-डेढ़ साल में पतंजलि का बाजार में काफी प्रसार हुआ है। इसके उत्‍पादों ने बाजार के बड़े हिस्‍से पर प्रभुत्‍व जमा लिया है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग