January 21, 2017

ताज़ा खबर

 

सोशल मीडिया पर पीएम नरेंद्र मोदी की डिप्‍लोमेसी के चर्चे, लोग बोले- जैकेट का है कमाल

एनएसजी में सदस्‍यता को लेकर मोदी लगातार प्रयास कर रहे हैं।

शनिवार को ब्रिक्‍स देशों के राष्‍ट्राध्‍यक्ष एक ही तरह की जैकेट में नजर आए थे। (Source: Twitter)

सोशल मीडिया पर फिलहाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कूटनीति की जमकर तारीफ हो रही है। ब्रिक्‍स (BRICS) देशों के शिखर सम्‍मेलन में प्रधानमंत्री के रुख की ट्विटर पर सराहना की जा रही है। सोमवार सुबह #ModisInnovativeDiplomacy हैशटैग के जरिए पीएम मोदी को प्रभावी नेता बताया गया, जो विदेशों में भारत का काम निकलवाना जानता है। एक यूजर ने तो ब्रिक्‍स राष्‍ट्राध्‍यक्षों की एक ही तरह की जैकेट में आई फोटो के साथ लिखा- ‘मोदी जैकेट का कमाल’ एनएसजी में सदस्‍यता को लेकर मोदी लगातार प्रयास कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर लोगों ने उम्‍मीद जताई है कि पीएम भारत को इस बड़े समूह की सदस्‍यता दिला पाने में सफल रहेंगे। प्रधानमंत्री ने रविवार को ब्रिक्स में कहा था, ‘हमारी आर्थिक खुशहाली के लिए प्रत्यक्ष खतरा आतंकवाद से है, त्रासदपूर्ण है कि यह ऐसे देश से हो रहा है जो भारत के पड़ोस में है।’ ब्रिक्स देशों के शांति, सुधार, तार्किक एवं उद्देश्यपूर्ण कार्रवाई के लिए एकजुट होने का उल्लेख करते हुए मोदी ने कहा, ‘अगर प्रगति के नए वाहकों को जड़े जमानी हैं तो सीमाओं के पार कुशल प्रतिभा, विचारों, प्रौद्योगिकी और पूंजी का निर्बाध प्रवाह होना होगा।’

भारतीय सेना की सर्जिकल स्‍ट्राइक पर क्‍या बोले शाहिद अफरीदी, देखें वीडियो:

गौरतलब है कि ब्रिक्स सम्मेलन गोवा के पणजी में 15 अक्तूबर से शुरू हुआ था। ब्रिक्स शिखर सम्मेलन और बिम्सटेक सम्मेलन के इतर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 10 द्विपक्षीय मुलाकातें की हैं। शनिवार को भारत और रूस ने मिसाइल प्रणालियों, जंगी जहाजों की खरीद और हेलीकॉप्टरों के संयुक्त उत्पादन सहित कई बड़े रक्षा सौदों पर हस्ताक्षर किए। इसके अलावा दोनों देशों ने कई सारे अहम क्षेत्रों में सहयोग मजबूत करने पर फैसला किया और एकजुट होकर आतंकवाद की बुराई से लड़ने का संकल्प लिया।

READ ALSO: प्रोजेक्‍ट पाने के लिए राज्‍यों को करना होगा मुकाबला, नए तरीके की तलाश में मोदी सरकार

शनिवार को पीएम ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से भी बात की। खबरों के मुताबिक, मोदी ने शी जिनपिंग को साफ किया कि आंतक के मुद्दे पर दो देशों को अलग सोच नहीं रखनी चाहिए और चीन को आतंक पर अपना स्टेंड क्लीयर करना चाहिए। मीटिंग में पुतिन ने उरी हमले के बाद भारत द्वारा पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) में घुसकर की गई कार्रवाई (सर्जिकल स्ट्राइक) को भी सही बताया। मोदी ने रूस के साथ हुए समझौते के दौरान कहा था कि दो नए दोस्तों के मुकाबले एक पुराना दोस्त बेहतर होता है।

देखिए, ट्विटर पर हो रही है मोदी की तारीफ:

READ ALSO: आरएसएस प्रचारक की गिरफ्तारी और पिटाई के मामले में फंसे “लापता” इंस्पेक्टर ने कहा- अब कोई उन्हें छूने की हिम्मत नहीं करेगा

READ ALSO: मोदी के मुरीद हुए डोनाल्ड ट्रंप, कहा- उनके साथ काम करने का इंतजार कर रहा हूं और कहा- मैं भारत का फैन हूं

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 17, 2016 9:09 am

सबरंग