ताज़ा खबर
 

तीन तलाक पर टीवी डिबेट में बोले मौलाना – मोदी जी डिजिटल इंडिया को बढ़ावा दे रहे हैं, आप वॉट्सएप्प पर तलाक़ को गलत ठहरा रहे हो!

शो के दौरान मौलाना ने वॉट्सएप्प पर तलाक देने को डिजीटल इंडिया से जोड़ दिया।
तीन तलाक पर बहस करते रोहित सरदाना।

देश भर में तीन तलाक एक बार फिर सुर्खियों में है। ताजा मामला अलीगढ़ का है जहां एक एएमयू प्रोफेसर ने अपनी पत्नी को वॉट्सएप्प पर तलाक भेज दिया है। कोर्ट के आदेश के बाद तीन तलाक पर गैरकानूनी माना जा चुका है। इस मुद्दे पर बहस के दौरान एक मौलाना ने ऐसी बात बोल दी जिसकी शायद किसी ने उम्मीद ना की है। प्रोफेसर का बचान करते हुए मौलाना साजिद राशिदी ने कहा कि, “मोदी जी डिजिटल इंडिया को बढ़ावा दे रहे हैं, आप वॉट्सएप्प पर तलाक़ को गलत ठहरा रहे हो!:” उनकी इस  बात को शो के एंकर रोहित सरदाना  ने बाद में अपने ट्वीट अकाउंट से शेयर करते हुए लिखा , “आज के ‘दंगल’ में आए मौलाना साहब का कहना था कि मोदी जी डिजिटल इंडिया को बढ़ावा दे रहे हैं और आप लोग वॉट्सएप्प पर तलाक़ को ग़लत ठहरा रहे हो! तालियां !” रोहित हाल ही में जी न्यूज से आजतक गए हैं। वो वहां दंगल नाम के शो में बहस कराते हैं। इसी शो के दौरान मौलाना ने वॉट्सएप्प  पर तलाक को डिजीटल इंडिया से जोड़ दिया।

क्या है पूरा मामला

एएमयू में प्रफेसर खालिद बिन यूसुफ खान पर उनकी पत्नी यासमीन खालिद ने आरोप लगाया है कि उन्होंने उन्हें वॉट्सएप्प के माध्यम से ट्रिपल तलाक दिया है। साथ ही उन्होंने कहा है कि अगर उन्हें न्याय नहीं मिलता है तो वह एएमयू के वाइस चांसलर के घर के बाहर अपने बच्चों के साथ आत्महत्या कर लेंगी। यासमीन पीएण मोदी और योगी आदित्यनाथ से भी मदद की  गुहार लगा चुकी हैं। तो वहीं दूसरी तरफ प्रफेसर खान ने यासमीन के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा, ‘मैंने उसे केवल वॉट्सऐप और एसएमएस के जरिए नहीं बल्कि 2 लोगों के सामने बोल के भी तलाक दिया है।’ खान ने इस मामले में खुद को असली पीड़ित ठहराते हुए कहा कि यासमीन पिछले दो दशकों से उनका उत्पीड़न कर रही हैं। इसी पूरे मामले पर बोलते हुए मौलाना ने ऐसा बयान दिया है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.