December 07, 2016

ताज़ा खबर

 

Video: परेश रावल ने साधा अरविंद केजरीवाल और ममता बनर्जी पर निशाना, कहा- बंटी और बबली से सावधान रहिए

अरविंद केजरीवाल और ममता बनर्जी को आजादपुर में एक रैली करके नोटबंदी के मामले में मोदी सरकार पर निशाना साधा था।

परेश रावल।

नोट बंदी को लेकर सरकार और विपक्ष आमने-सामने है। संसद में हंगामा मचा है। अरविंद केजरीवाल और ममता बनर्जी ने सरकार को तीन दिन में फैसला वापस लेने का फरमान सुनाया है तो वहीं वित्त मंत्री अरुण जेटली रोलबैक की किसी भी संभावना से साफ इंकार कर दिया। सरकार के नोटबंदी के फैसले को बॉलीवुड से काफी समर्थन मिला है। इसी कड़ी में बीजेपी सांसद और अभिनेता परेश रावल ने अरविंद केजरीवाल और ममता बनर्जी पर निशाना साधा है। सोशल साइट ट्विटर पर एक वीडियो अपलोड करके परेश रावल ने बंटी और बबली से सावधान रहने को कहा है। माना जा रहा है उनका इशारा अरविंद केजरीवाल और ममता बनर्जी की तरफ है।

अपने वीडियों में वो बोल रहे हैं कि, ” मोदीजी के नोट बंदी के कदम उठाने के बाद कुछ पॉलिटिकल पार्टियां कुछ ज्यादा ही परेशान हो गई। वो परेशान जनता की परेशानी की वजह से नहीं है। वो परेशान इसलिए हैं कि उनका करोड़ो का धन रातों रात कचरा हो गया, रद्दी बन गया। और परेशान इस वजह से भी कि जनता परेशान होने के बावजूद मोदी जी के साथ है। मोदी जी के इस कदम को समझ रही है सराह रही है। इसलिए कुछ बंटी और बबलियां लोगों को भड़काते हैं। ऐसे बंटी और बबली सावधान रहिए। और अपने देश को मजबूत बनाइए। जय हिंद।

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार (17 नवंबर) को आजादपुर में एक रैली करके नोटबंदी के मामले मोदी सरकार पर निशाना साधा था। केजरीवाल ने कहा कि देशभक्ति की आड़ में घोटाले हो रहे हैं। लेकिन ये घोटाले होने नहीं देंगे, देश के लिए जान की बाजी लगाने को तैयार हैं। मोदी सरकार यह आजाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला कर रही है। 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करके 2000 रुपए लॉन्च करके कैसे भ्रष्टाचार खत्म करेंगे। केजरीवाल ने कहा, ‘पीएम मोदी ने विजय माल्या को रात में हवाई जहाज में बैठाकर लंदन भेज दिया। माल्या ने बैंकों के करोड़ो रुपए खा लिए हैं। सरकार ने भी उनके अरबों रुपए का लोन माफ कर दिया है। लेकिन यहां पर लोग लाइनों में खड़े हैं। लोगों के पास खाने को भी नहीं है। लोग परेशान हो रहे हैं। लोगों की बुनियादी जरूरतें भी पूरी नहीं हो रही हैं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 20, 2016 12:17 am

सबरंग