January 21, 2017

ताज़ा खबर

 

परेश रावल पर ‘महिला’ ने लगाया आरोप, मिला मजेदार जवाब

एक्टर और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तरफ से सासंद परेश रावल ने ट्विटर पर एक अकाउंट को मजाकिया लहजे में जवाब दिया

एक्टर परेश रावल

एक्टर और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तरफ से सासंद परेश रावल ने ट्विटर पर एक अकाउंट को मजाकिया लहजे में जवाब दिया। ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘मेडम माथे पर से थोड़ा बाल हटा के देखिये … लिन्क भी भेजा है !’ दरअसल, परेश रावल ने मंगलवार (11 अक्टूबर) को एक ट्वीट किया था। उस ट्वीट में उस खबर का खंडन किया गया था जिसमें सेना के दिव्यांग लोगों की पेंशन कम करने की बात कही गई थी। लेकिन पर्मिला नाम के ट्विटर अकाउंट ने रावल के ट्वीट पर सवाल खड़े किए। पर्मिला ने लिखा, ‘आप के अपने रिपोर्टर ने बनाई होगी खबर खुद से।’ इस ट्वीट को पढ़कर रावल ने ट्वीट किया, ‘मेडम माथे पर से थोड़ा बाल हटा के देखिये … लिन्क भी भेजा है !’

हाल ही में खबर आई थी कि सरकार सशस्त्र बलों के विकलांगता पेंशन को कम कर दिया है। लेकिन सरकार ने बीती रात सशस्त्र बलों के विकलांगता पेंशन में कमी से जुड़ी खबरों को खारिज करते हुए कहा था कि उसने तो सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के मुताबिक 90 प्रतिशत सशस्त्र बलों के लिए उसमें उल्लेखनीय वृद्धि की है। सूत्रों ने बताया कि अधिकारी रैंक या जूनियर कमीशन अधिकारियों की विकलांगता पेंशन में 14 से 30 फीसदी तक का इजाफा किया गया है। मीडिया में आ रही खबरों पर कांग्रेस की आलोचना के कुछ घंटे बाद ही सूत्रों ने बताया कि सशस्त्र बलों की विकलांगता पेंशन को लेकर कई तरह की नकारात्मक खबरें आ रही हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मीडिया में आज एक नाटकीय खबर आ रही है, जिसमें बताया गया है कि लक्षित हमले में शामिल सेना का जवान अगर घायल हो जाता तो किस प्रकार उसकी पेंशन में कमी आ जाती।

वीडियो: भारत-न्यूज़ीलैंड टेस्ट सीरीज़: भारत ने न्यूज़ीलैंड को 321 रनों से हराकर 3-0 से सीरीज़ जीती

हालांकि तथ्य यह है कि सातवें वेतन आयोग की अनुशंसाओं के अनुसार युद्ध में घायल कर्मियों के पेंशन को छुआ तक नहीं गया है।’ सूत्रों ने बताया कि मीडिया की खबरों में इस तरह की छवि बनाने की कोशिश की जा रही है कि विकलांगता पेंशन में कटौती की गयी है।

परेश रावल ने यह ट्वीट किया था-

इसपर पर्मिला ने यह ट्वीट किया-

जवाब में परेश रावल ने यह ट्वीट किया

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 11, 2016 7:06 pm

सबरंग