May 25, 2017

ताज़ा खबर

 

पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़े तो ट्विटर यूजर्स ने साधा पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना, ऐसे उड़ाया मजाक

पिछले दिनों कच्चे तेल में आए उछाल के कारण ही पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाए गए है।

ट्विटर पर पीएम मोदी को निशाना बनाते कार्टून शेयर किए जा रहे हैं। (Source: Twitter)

पेट्रोल-डीजल के दाम तय करने के लिए नए नियम बन चुके हैं। कच्चे तेल के अंतरराष्ट्रीय मूल्यों के आधार पर ईंधन कीमतों की हर पखवाड़े समीक्षा होती है, जिसमें तीनों सरकारी कंपनियां- इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम और हिदुस्तान पेट्रोलियम मिलकर दाम तय करती हैं। कंपनियां इस समीक्षा के दौरान डॉलर और रुपए की विनिमय दर को भी ध्यान में रखती हैं। शनिवार को पेट्रोल के मूल्य में 1.34 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। वहीं डीजल की कीमत 2.37 पैसे प्रति लीटर बढ़ाई गई है। इस बढ़ोत्‍तरी पर विपक्षी कांग्रेस ने भाजपा पर महंगाई बढ़ाने का आरोप लगाया है। सोशल मीडिया पर रविवार सुबह एक ट्रेंड चलाया- #जेब_कतरा_मोदी। ट्विटर पर लोग ईंधन की कीमतें बढ़ने के लिए लोग मोदी सरकार को जिम्‍मेदार ठहरा रहे हैं। कुछ यूजर्स ने मनमाेहन सिंह सरकार और नरेंद्र मोदी सरकार के कार्यकाल के दौरान पेट्रोल-डीजल के दामों की तुलना कर यह दिखाने की कोशिश की है कि केंद्र सरकार जान-बूझकर महंगाई बढ़ा रही है।

वोडाफोन यूजर्स के लिए अच्‍छी खबर, देखें वीडियो: 

पिछले दिनों कच्चे तेल में आए उछाल के कारण ही पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाए गए है। देश में तेल कंपनियां हर 15 दिन में पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों की समीक्षा करती हैं। इसके बाद अंतरराष्ट्रीय क्रूड के दामों के आधार पर घरेलू तेल कीमतों में बदलाव करती हैं। जिसके बाद लगातार कटौती के बाद दामों में इजाफा किया गया है। इस महीने की शुरूआत में ही यातायात उपभोक्ताओं की जेब ढीली हुई थी जब डीलर कमीशन बढ़ने से पेट्रोल और डीजल के दाम क्रमश: 14 पैसे प्रति लीटर और 10 पैसे लीटर बढ़ाए गए थे। इससे पहले एक अक्तूबर को पेट्रोल कीमतों में 37 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की गई थी। उस दिन डीजल के दाम आठ पैसे लीटर कम किये गये थे।

READ ALSO: LIVE, ब्रिक्स सम्मेलन: पीएम नरेंद्र मोदी की पाकिस्तान को खरी-खरी- आतंक को जन्म देने वाला देश भारत का पड़ोसी है

इंडियन आॅयल कारपोरेशन ने कीमत वृद्धि की घोषणा करते हुए कहा था कि अन्य राज्यों में भी डीजल कमीशन में बदलाव की वजह से पेट्रोल, डीजल कीमतों में संशोधन होगा। गौरतलब है कि इससे पहले पिछले माह ही पेट्रोल की कीमतों में (15 सितंबर) को प्रति लीटर 58 पैसे की बढ़ोत्तरी जबकि डीजल की कीमतों में प्रति लीटर 31 पैसे की कमी की गई । सितंबर माह में पेट्रोल की कीमतों में हुई दो बार बढ़ोत्तरी की गई थी। लिहाजा अब फिर से लोगों की जेब पर असर पड़ेगा।

ट्विटर पर आए कुछ यूजर्स के रिएक्‍शंस:

READ ALSO: ‘रिपब्लिकन हिंदू कोअलिशन: ट्रंप ने कहा- हम हिंदुओं से प्यार करते हैं, हम भारत से प्यार करते हैं’

READ ALSO: ब्रिक्स सम्मेलन LIVE: पीएम नरेंद्र मोदी की पाकिस्तान को खरी-खरी- आतंक को जन्म देने वाला देश भारत का पड़ोसी है

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 16, 2016 2:01 pm

  1. No Comments.

सबरंग