ताज़ा खबर
 

वेस्टइंडीज के खिलाफ मिली हार से ड्रेसिंग रूम में रोने लगे धोनी, वीडियो हुआ वायरल

वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए चौथे वनडे में भारत को महज 11 रनों से हार का मुंह देखना पड़ा है।
मैच उस दौरान भारत के हाथ से फिसल गया जब धोनी 49वें ओवर में आउट हो गए। (फोटो सोर्स वीडियो स्क्रीन शॉट)

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल में पाकिस्तान के हाथों मिली करारी हार के बाद से क्रिकेट प्रंशसक अभी ठीक से ऊबरे भी नहीं थे कि वेस्टंडीज के हाथों एक और हार ने भारतीय प्रंशसकों की मायूसी बढ़ा दी है। बता दें कि वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए चौथे वनडे में भारत को महज 11 रनों से हार का मुंह देखना पड़ा है। सिर्फ 190 रनों का पीछा नहीं कर पाने असफल भारतीय टीम की हार के लिए सोशल मीडिया पर लोग धोनी की धीमी पारी को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। दरअसल पूर्व कप्तान धोनी इंडीज के खिलाफ चौथे वनडे में 114 गेंदों पर 54 रनों की पारी खेली। मैच उस दौरान भारत के हाथ से फिसल गया जब धोनी 49वें ओवर में आउट हो गए। बल्कि महज दो रनों के अंदर भारत के तीन विकेट गिर गए। वहीं हार के बाद जब टीम इडिंया के खिलाड़ी वेस्टइंडीज के खिलाड़ियों से हाथ मिला रहे थे तब धोनी ड्रेसिंग रूप में इस हार के लिए जिम्मेदार मानते हुए रोते हुए नजर आए। उन्हें पता था कि कितने महत्वपूर्ण मैच में टीम को को हार का सामना करना पड़ा। भारतीय टीम के पास सीरीज जीतने का अच्छा मौका था लेकिन मैच हारने के बाद ये सीरीज पर अब खतरे के बादल मंडराने लग गए हैं। भारत के मैच हारने के बाद अब सीरीज 2-2 से बराबर हो गई है। दूसरी तरफ सामने आए वीडियो में भी साफ नजर आ रहा है कि धोनी इस हार से कितने निराश हैं और ड्रेसिंग रूम में बैठे हुए हैं। 40 सेकेंड के इस वीडियो में धोनी काफी निराश नजर आ रहे हैं।

वहीं धोनी की इस अर्धशतकीय पारी में कई ऐसे रिकॉर्ड भी बने जिसे वो कभी याद नहीं करना चाहेंगे। आमतौर पर क्रिकेट मैदान पर मौजूद खिलाड़ी थोड़ा समय पिच पर बिताने के बाद बड़े शॉट्स लगाना शुरू कर देते हैं लेकिन धोनी के मैदान पर रहते टीम इंडिया 100 गेंदों में एक भी बाउंड्री नहीं लगा पाई। क्रिकेट इतिहास में धोनी ने सबसे ज्यादा गेंदों खेलकर अर्धशतक बनाने का रिकॉर्ड बनाया है। धोनी से पहले 1999 टीम इंडिया के सदगोप्पन रमेश ने केन्या के खिलाफ वनडे में 117 गेंदों में अर्धशतक लगाया था। किसी भी भारतीय द्वारा बनाए गए इस अर्धशतक का रिकॉर्ड आज भी कायम है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.