ताज़ा खबर
 

परिवहन मंत्रालय की वेबसाइट पर दिख रही यह चमचमाती सड़क भारत की नहीं अमेरिका की है?

जिस सड़क को मंत्रालय ने अपने वेबसाइट पर जगह दी है रिपोर्ट्स के मुताबिक ये सड़क कनाडा के टोरंटो शहर के गार्डिनर एक्सप्रेस वे की है।
ये तस्वीर अमेरिका के एक सड़क की है। (सोर्स-parivahan.gov.in)

केन्द्रीय सड़क और परिवहन मंत्रालय की वेबसाइट पर दिखने वाली कई चमचमाती सड़कें भारत की नहीं हैं। एक रिपोर्ट में पता चला है कि ये सड़कें अमेरिका और कनाडा की है। लेकिन इन सड़कों को भारत की सड़कें बताने की कोशिश की जा रही है। एल्ट न्यूज की रिपोर्ट में ये खुलासा हुआ है। हालांकि इन तस्वीरों की सच्चाई सामने आने के बाद वेबसाइट से ये तस्वीरें हटा ली गईं हैं। नीचे की इस तस्वीर को देखिए। जिस सड़क को मंत्रालय ने अपने वेबसाइट पर जगह दी है रिपोर्ट्स के मुताबिक ये सड़क कनाडा के टोरंटो शहर के गार्डिनर एक्सप्रेस वे की है। गूगल मैप्स के जरिये इस बात की पुष्टि भी की जा रही है।

यू ट्यूब वीडियो के जरिये भी इस बात की पुष्टि होती है कि ट्रांसपोर्ट मंत्रालय के वेबसाइट में इस्तेमाल की गई सड़क टोरंटो कनाडा की है।

मंत्रालय द्वारा वेबसाइट पर लगाई गई दूसरी सड़क अमेरिका के नेवादा की है। जांच में पता चला है कि ये सड़क अमेरिका नेवादा में कायले कैनियन रोड के नाम से जानी जाती है।

इस तस्वीर को निकोला नाम के शख्स ने 23 जून 2011 को खींचा था। इस शख्स ने इस तस्वीर को अपने फ्लिकर अकाउंट पर पोस्ट किया था।

ये पहली बार नहीं है कि सरकारी विभाग फर्जी तस्वीरें इस्तेमाल करते पाये गये हैं।ये पहली बार नहीं है कि सरकारी विभाग फर्जी तस्वीरें इस्तेमाल करते पाये गये हैं। जून में गृह मंत्रालय ने भारत पाकिस्तान बॉर्डर पर फ्लडलाइट्स लगाने के बारे में जानकारी दी थी। इस दौरान मंत्रालय ने स्पेन मोरक्को बॉर्डर की तस्वीरें भारत-पाकिस्तान के बॉर्डर की बताकर लगा दी।जब वर्तमान रेल मंत्री पीयूष गोयल ऊर्जा मंत्रालय का कार्यभार संभाल रहे थे तो उन्होंने रूस की आठ साल की एक पुरानी तस्वीर को भारत का बताकर शेयर कर दिया था। इस तस्वीर में LED बल्बों के जरिये स्ट्रीट लाइटिंग की जानकारी दी गई थी। हालांकि सोशल मीडिया में जब उनकी गलती पकड़ी गई तो उन्होंने इस तस्वीर को बदल दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    Anil Barwa
    Nov 12, 2017 at 9:04 am
    ये सर्कार का सब काम केवल टीवी स्क्रीन और बिज्ञापन पर ही सिमित है......जमीनी हकीकत सबको पता है .
    (0)(0)
    Reply
    1. N
      NK
      Nov 11, 2017 at 10:03 pm
      Surprise... we even do not have our own road for advertising development!
      (2)(0)
      Reply
      1. D
        Dinesh
        Nov 11, 2017 at 9:31 pm
        क्या बात है इन सालो से इससे काम की कोई उम्मीद भी नहीं है. सब साले झूठे और मक्कारो से भरी है ये बीजेपी.
        (2)(0)
        Reply