ताज़ा खबर
 

लाइव टीवी डिबेट में संबित पात्रा पर भड़के असदुद्दीन ओवैसी, बोले- संबित मुझे गोली मार दीजिए

टीवी चैलन जी न्यूज के कार्यक्रम 'ताल ठोक के' में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) व हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रवक्ता संबित पात्रा के बीच 'रोहिंग्या मुस्लमों' के मुद्दों पर तीखी नोकझोंक हुई।
भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा और एमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी। (फोटो सोर्स वीडियो स्क्रीन शॉट)

टीवी चैलन जी न्यूज के कार्यक्रम ‘ताल ठोक के’ में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) व हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रवक्ता संबित पात्रा के बीच ‘रोहिंग्या मुस्लमों’ के मुद्दों पर तीखी नोकझोंक हुई। दरअसल कार्यक्रम का मुद्दा था कि क्या देश की सुरक्षा से समझौता कर ‘रोहिंग्या मुस्लिमों’ के मुद्दों को सिर्फ वोट बैंक के तौर पर देखा जा रहा है। इसपर पत्रकार रोहित सरदाना ने ओवैसी से सवाल पूछा कि ‘रोहिंग्या मुस्लिमों’ के मुद्दे पर वो अपनी राय क्यों सरकार के बरक्स रखते हैं? जबकि कश्मीरी पंडितों पर उनकी राय ऐसी क्यों नहीं है? बांग्लादेशी और पाकिस्तानी हिंदुओं के बारे में वो ऐसा क्यों नहीं सोचते हैं? जवाब में ओवैसी कहते हैं कि रोहिंग्या शरणार्थियों को सिर्फ मुसलमानों से जोड़कर नहीं देखा जा सकता है। क्योंकि बर्मा में ही 200 से ज्यादा हिंदुओं को जिंदा जला दिया गया, 400 से ज्यादा घर तबाह कर दिए गए। मैं सिर्फ इतना कहना चाहता हूं कि जब देश में चालीस हजार रोहिंग्या पहले ही हैं जबकि सुप्रीम कोर्ट खुद शरणार्थियों को ‘राइट टू लाइफ’ अधिकार देता है तो हम सिर्फ रोहिंग्या के बारे में हम ऐसा क्यों सोचते हैं।

वहीं कार्यक्रम के दौरान संबित पात्रा और ओवैसी के बीच तीखी नोकझोंक तब हुई जब भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि देशभर में दो फीसदी ओवैसी जैसे लोग हैं जो देश के लिए अच्छा नहीं सोचते? जवाब में ओवैसी उन्हें खुद को गोली मारने की बात कहते हैं। ओवैसी कहते हैं कि जब मैं उन दो फीसदी लोगों में से हूं जो मुल्क के खिलाफ हैं तो संबित आप मुझे गोली मार दीजिए। आप जगह बताइए, मैं आपको चैलेंज करता हूं। आप मुझे खत्म कर दीजिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.