ताज़ा खबर
 

लाइन में लगे लोगों को लड्डू बांटने पर हुई बीजेपी की खिंचाई, लोग बोले- मोतीचूर नहीं, मोदीचोर का लड्डू है

दिल्ली बीजेपी ने एटीएम की लाइन में खड़े लोगों को लड्डू देने की योजना बनाई थी। बीजेपी इसके जरिए एटीएम की लाइन में खड़े लोगों के धैर्य के लिए उनका आभार जताना चाहती है।
दिल्ली बीजेपी ने लाइन में खड़े लोगों को लड्डू बांटने का फैसला किया। (Photo Source: Twitter)

नोटबंदी के फैसले के कारण पैसे की कमी से जूझ रहे आम आदमी की नाराजगी को कम करने के लिए बीजेपी ने लड्डू बांटने की योजना बनाई है। इसके तहत पार्टी ने दिल्‍ली में अपने कार्यकर्ताओं से हर घर में एक लड्डू देने को कहा है। हालांकि माइक्रो ब्लागिंग साइट ट्विटर पर बीजेपी के इस फैसले को लेकर मजाक बनाया जा रहा है। ट्विटर यूजर्स ने लड्डू_खाओ_भाजपा_भगाओ हैशटेग से फनी कमेंट्स किए। एक यूजर ने लिखा- “बीजेपी ने लाइन में खड़े हर एक शख्स को एक लड्डू देने का फैसला किया है। मित्रों ये मोतीचूर के लड्डे नहीं मोदीचोर के लड्डे हैं।” तनवी नाम की एक अन्य यूजर ने लिखा- “नोटबंदी के लड्डू शादी के लड्डू से भी ज्यादा बुरे हैं।” कुछ और यूजर्स ने भी इसी तरह के मजेदार कमेंट्स किए हैं।

दरअसल दिल्ली बीजेपी ने एटीएम की लाइन में खड़े लोगों को लड्डू देने की योजना बनाई थी। बीजेपी इसके जरिए एटीएम की लाइन में खड़े लोगों के धैर्य के लिए उनका आभार जताना चाहती है। इस फैसले की पुष्टि करते हुए दिल्‍ली भाजपा अध्‍यक्ष मनोज तिवारी ने बताया, ”प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काले धने से मुकाबले के लिए यह क्रांतिकारी कदम उठाया है। कुछ परेशानियां झेलने के बावजूद लोगों ने इस फैसले का समर्थन किया है। अब हमारी बारी है कि हम उनके संयम का आभार जताएं।” उन्‍होंने कहा कि कार्यकर्ताओं को एक जनवरी से प्रत्‍येक घर में मिठार्इ बांटने के लिए जाने को कहा है। यह काम 10 जनवरी तक किया जाएगा।

इसी बीच सूत्रों ने बताया कि पिछले सप्‍ताह पार्टी की कोर टीम ने नोटबंदी को लेकर अपना फीडबैक दिया। यह बैठक प्रत्‍येक मंगलवार को होती है। पार्टी के एक सीनियर नेता ने बताया, ”हमने फीडबैक‍ दे दिया है और यह उतना अच्‍छा नहीं है जितना बताया जा रहा है। कदम अच्‍छा है लेकिन इसे लागू करने के तरीके ने चोट पहुंचाई है। कारोबारी दुखी हैं और यह बात बता दी गई है।”

नोटबंदी पर राहुल गांधी बोले- “कैशलेस हो गए आम लोग, काले धन वालों का पैसा हुआ सफेद”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    Abu talib
    Dec 13, 2016 at 5:53 pm
    देश के कितने लाख करोड़ घंटे इन लाइनों में खड़े होकर बर्बाद हुए हैं इसका कुछ अंदाज़ा है इन भाजपा वालों को ! लड्डू ऐसे बाँट रहे हैं जैसे घर लल्ला हुआ है !
    Reply
  2. A
    Avi
    Dec 14, 2016 at 5:33 pm
    मा@$चो# के लड्डू ...
    Reply
  3. J
    jaya
    Dec 13, 2016 at 7:25 pm
    in beshrmo se koi pooche laddo kaya rishwat nahi hai ? laddo muft me khilane ka paisa kaha se aaya kisane diya paise ka source kiya tha?
    Reply
  4. L
    luvis
    Dec 14, 2016 at 9:25 am
    एक दिन लाइन में कदरहे थो एक लेदु मिलेका एक दिन कामकरेगा अट्टू सव रूपया मिलेगा सर्ककरको उसमे ठकरीपन दस रूपया तकसु मिलेगा नुकसान किसका ही दोनों तरफसे जैनधको है फायदा प्रधान मंदत्रीको हे लेदु कीमत बी जेनता से लीटी हे ये हे मोदीजी सके रहना. मुम्बई में ओले मेरु टैक्सी आया हे कला पिला टैक्सी कदम हो रहा हे अबी ओले मेरु सस्ता हे कला पिला ख़त्म होजायेगा तबी ढेकना ओले आवर मेरुका नादक अइी नॉट का लेना देना ख़त्म हो जायका तबी डेक्कन कैसे नचायेगा पब्लिको दहकते जव्वो आगे आगे होते हे क्या ?
    Reply
सबरंग