ताज़ा खबर
 

बलात्‍कार की कोशिश पर लड़की ने काटा ‘साधु’ का गुप्‍तांग, ट्विटर यूजर्स बोले- पाखंडियो को मिले ऐसी ही सजा

केरल में एक छात्रा ने उसके साथ पिछले आठ सालों से रेप करने वाले स्वामी का तेजधार हथियार से प्राईवेट पार्ट काट डाला।
मामले सामने आने के बाद केरल के स्वामी ने कहा है कि उसने खुद अनपा प्राइवेट पार्ट काटा है। (फोटो सोर्स इंडियन एक्सप्रेस)

केरल में एक छात्रा ने उसके साथ पिछले आठ सालों से रेप करने वाले स्वामी का तेजधार हथियार से प्राईवेट पार्ट काट डाला। 23 साल की लॉ छात्रा ने 54 साल के स्वामी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि जब वो बारहवी कक्षा में पढ़ रही थी तब से स्वामी उसके साथ बलात्कार कर रहा था। स्वामी की पहचान कोलम स्थित पनमाना आश्रम के स्वामी गंगेशानंद के रूप में हुई है। वहीं सोशल नेटवर्किंग साइट पर छात्रा के इस कदम की जमकर तारीफ की जा रही है। शशिधरन पजहूर लिखते हैं, डियर केरल के स्वामी, अगर ये बात सही थी, तब आपके सिर पर क्यों नहीं मारना चाहिए? आईरोनी ऑफ इंडिया नाम से ट्विटर यूजर लिखते हैं, ‘तो स्वामी ने बलात्कार की कोशिश की और जब उसकी वाइली ने ठीक से काम नहीं किया, तो हताशा में इसे काट दिया?’ कमकश्रीराममूर्ति लिखते हैं, ‘रेप की कोशिश करने वाले स्वामी का प्राईवेट पार्ट काटकर केरल की छात्रा ने बहुत अच्छा किया।’ यशवंत देखमुख लिखते हैं, ‘हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील करते हैं कि वो इस बहादुर लड़की को राष्ट्रीय बहादुर पुरस्कार से नवाजा जाए। उम्मीद है सभी इसका समर्थन करेंगे।’ सुरेंद्र सिंह बिष्ट लिखते हैं, ‘ऐसी ही सजा कुछ और पाखंडियों को भी मिले।’

मुन्ना भाई नाम से ट्वविटर यूजर लिखते हैं, ‘ओह वो स्वामी था, मोदी भक्त।’ कावमाता लिखते हैं, ‘उम्मीद करता हूं ब्लात्कारी स्वामी का प्राइवेट पार्ट काटने वाली लड़की को केरल में भाजपा सम्मानित करेगी।’ सिनर लिखते हैं, ‘केरल में एक लड़की ने स्वामी का प्राइवेट काट डाला। अगर भाजपा शासित राज्य में ये होता तो संघी उस लड़की को मौत के घाट उतार देते।’

वहीं यह बात भी सामने आई है कि स्वामी ने पुलिस को अपने बयान में कहा है कि उसने खुद ही अपना प्राइवेट पार्ट काटा है। एक पुलिस अधिकारी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार स्वामी को इलाज के लिए थिरुवंतपुरम मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया, जहां पर उसका इमरजेंसी में ऑपरेशन किया गया। अस्पताल के डॉक्टरों ने बताया कि स्वामी का 90 प्रतिशत प्राइवेट पार्ट कट चुका है जिसे अब फिर से जोड़ा नहीं जा सकता। वहीं केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन ने छात्रा की तारीफ करते हुए कहा कि बहादुर लड़की। छात्रा ने अपने दोषी को जो सजा दी वह बहुत ही सही है। इसके बाद केरल महिला आयोग की सदस्य प्रमीला देवी ने कहा कि हमें छात्रा पर गर्व है। महिला ने साबित कर दिया कि धर्म की आड़ में कोई भी व्यक्ति किसी महिला के साथ ऐसा कृत्य नहीं कर सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग