ताज़ा खबर
 

कविता कृष्‍णन ने ट्वीट की सेना के खिलाफ पुराने प्रदर्शन की फोटो, एक शख्‍स का जवाब देख भड़क गईं लेफ्ट नेता

ऑल इंडिया प्रोग्रेसिव वुमन एसोसिएशन की सेक्रेटरी और सीपीएम (एमएल) पोलित ब्यूरो की सदस्य कविता कृष्णन ने ट्विटर पर एक पुरानी तस्वीर शेयर की है।
कविता कृष्णन CPIML पोलित ब्यूरो की सदस्य हैं। (Source-Express photo)

ऑल इंडिया प्रोग्रेसिव वुमन एसोसिएशन की सेक्रेटरी और सीपीएम (एमएल) पोलित ब्यूरो की सदस्य कविता कृष्णन ने ट्विटर पर एक पुरानी तस्वीर शेयर की है। तस्वीर में कुछ महिलाएं एक बैनर लिए खड़ी हैं, जिसमें लिखा हैं, ‘भारतीय सेना हमारा बलात्कार करती है।’ ट्वीट में कविता कृष्णन लिखा, ‘डीएस हुडा इंडियन एक्सप्रेस ऑनलाइन में लिखे एक लेख में आपने दावा किया ‘Meira Paibis’ आर्मी का आदर करता है। जम्मू-कश्मीर कोएलिशन सिविल सोसाइटी भी ऐसा करती है। क्या ये सम्मान की तरह दिखता है?’ तस्वीर में जो महिलाएं नजर आ रही हैं वो निवस्र हैं।

ट्वीट पर कई यूजर्स ने प्रतिक्रियाएं दी है। कई यूजर्स ट्वीट के समर्थन में नजर आए तो कई यूजर्स इसके विपक्ष में। गजोधर लिखते हैं, ‘बहुत बढ़िया कृष्णन। मगर जोकर्स तो थोड़े अच्छे लाने थे। इनकी शक्ल देखकर कोई आशुतोष ने रेप हो ऐसे पर भी यकीन नहीं करेगा। देव गजोधर के ट्वीट का जवाब देते हुए लिखते हैं, ‘कविता कृष्णन की आर्मी वाली बात से तो एक फीसदी भी सहमत नहीं हूँ, पर तेरी घटिया सोच ये बताती है, तेरी परवरिश में कमी रह गई। घटिया इंसान है तू तो।’ वहीं दत्ता लिखते है, ‘मैं इसकी निंदा करता हूं।’

गौरतलब है कि कविता कृष्णन ने गजोधर के ट्वीट का स्क्रीन शॉट लेकर एक अन्य ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने लिखा, ‘किसी वजह से ये ट्वीट डिलीट हो जाए तो उसका स्क्रीन शॉट यहां है।’ विकास गर्ग लिखते हैं, ‘मगर आपकी मां फ्री सेक्स का समर्थन करती हैं ना?’ एक यूजर लिखते हैं, ‘ट्विटर इंडिया में इसकी शिकायत की जानी चाहिए।’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग