ताज़ा खबर
 

मुस्लिमों से जावेद अख्‍तर ने पूछा- यहां इतनी समस्‍या है तो किसी और मुल्‍क क्‍यों नहीं चले गए?

मशूहर गीतकार और पूर्व राज्यसभा सांसद जावेद अख्तर ने धर्मनिपेक्षता और धर्मनिरपेक्ष संविधान का विरोध करने वाले लोगों पर निशाना साधा है।
जावेद अख्तर। (फाइल फोटो)

मशूहर गीतकार और पूर्व राज्यसभा सांसद जावेद अख्तर ने धर्मनिपेक्षता और धर्मनिरपेक्ष संविधान का विरोध करने वाले लोगों पर निशाना साधा है। ट्वीट में उन्होंने कथित तौर पर मुस्लिमों से सवाल पूछते हुए लिखा, ‘तो इतने सालों से आप धर्मनिरपेक्षता और धर्मनिरपेक्ष सविंधान से नाखुश थे। तो किसी और देश में क्यों नहीं चले गए?’ पूर्व राज्यसभा सांसद के ट्वीट से स्पष्ट नहीं हो पाया है कि उन्होंने किसी राजनेता या स्पष्ट रूप से मुस्लिम समुदाय पर निशाना साधा है। हालांकि ट्वीट में कमेंट कर एक यूजर्स ने उनसे पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी पर इशारे को लेकर सवाल किया था। यूजर के इस सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने लिखा, ‘हामिद अंसारी सच्चे देशभक्त हैं। वो हमारे समाज में हो रहीं कुछ अवांछनीय घटनाओं को लेकर चिंतित हैं।’ बता दें कि उप राष्ट्रपति रहते हामिद अंसारी ने अपने आखिरी साक्षात्कार में कहा था कि देश के मुस्लिमों में बेचैनी का अहसास और असुरक्षा की भावना है। गौरतलब है कि हामिद अंसारी की टिप्पणी ऐसी समय में आई थी जब असहनशीलता और कथित गौरक्षकों की गुंडागर्दी की घटनाएं सामने आई हैं। और कुछ भगवा नेताओं की ओर से अल्पसंख्यक समुदाय के खिलाफ बयान दिए गए हैं। अंसारी के इस बयान पर संघ से लेकर भाजपा और कांग्रेस के कुछ नेताओं ने विरोध जताया था।

दूसरी तरफ जावेद अख्तर के ट्वीट पर कई यूजर्स ने अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं। इंतेखाब आलम लिखते हैं, ‘अक्षय कुमार ने भारतीय पासपोर्ट रद्द कर कनाडा के पासपोर्ट को स्वीकारा है।’ वहीं अन्य ट्वीट में इंतेखाब लिखते हैं, ‘भारतीय डिप्लोमेट रहते हुए हामिद अंसारी ने यूएन में पाकिस्तान के खिलाफ केस जीता था।’ इसपर वरुण शर्मा जवाब देते हुए लिखते हैं, ‘लेकिन हामिद अंसारी दिल और आत्मा से पाकिस्तानी हैं। बस उनका शरीर भारतीय है। यही वजह है वो हमेशा भारत के खिलाफ बोलते हैं।’ आमिर मतीन लिखते हैं, ‘सर, मुझे लगता है आप किसी को यहां जवाब दे रहे हैं लेकिन हम संदर्भ नहीं देख पा रहे हैं। आपकी एक पाकिस्तानी फैन।’ रूपा लिखती हैं, ‘जावेद अख्तर हामिद अंसारी को जवाब दे रहे हैं।’ आंचल लिखती हैं, ‘किसको सुना रहे हैं। व्हाट्सएप की बातचीत तो शेयर नहीं कर दिए यहां?’ आजरा अंसारी लिखती हैं, ‘मुझे लगता है मुस्लिमों की दुर्दशा से आप पूरी तरह वाकिफ नहीं हैं। ये हमारा देश और घर है।’ मारिया सरताज लिखती हैं, ‘किसने बोला आपको कि पाकिस्तान जाओ? नाम बताओ या कोक स्टूडियो में गाने लिखोगे?’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. R
    RAMKRISHAN
    Aug 15, 2017 at 4:15 am
    जो लोग हामिद अंसारी पर ऊँगली उठा रहे हैं वोह गलती से भारत मैं पैदा हो गए हैं .उनको यह नहीं पता की भारतीयता क्या है
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग