ताज़ा खबर
 

‘हर महीने अगस्त में मरते हैं बच्चे’ इस बात पर गुस्साए ट्विटर यूजर्स, मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह पर निकाली जमकर भड़ास

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा बताया पिछले कई सालों से अगस्त के महीने में कई बच्चे गोरखपुर के इस हॉस्पिटल में दिमागी बुखार की चपेट में आकर जान देते है।
Author August 13, 2017 06:01 am
स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ।

उत्तर प्रदेश केगोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज में कथित रूप से आक्सीजन की कमी से मरे गए बच्चों की मौत पर शनिवार को बीजेपी सरकार ने अपनी सफाई मीडिया के सामने पेश की। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह मीडिया से बात करते हुए एक ऐसी बात बोल दी जो किसी के गले नहीं उतर रही। सिद्धार्थ ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा बताया पिछले कई सालों से अगस्त के महीने में कई बच्चे गोरखपुर के इस हॉस्पिटल में दिमागी बुखार की चपेट में आकर जान देते है। उन्होंने बकायदा आंकड़े भी पेश किए। उन्होंने सीधे तौर पर तो नहीं कहा लेकिन उनकी बात का अर्थ ये ही था कि हर साल अगस्त में बच्चे मरते ही है इसमें ऑक्सिजन की कमी सच नहीं है। लेकिन उनकी इस बात की सोशल मीडिया पर जमकर धज्जिया उड़ी। ट्विटर पर यूजर्स ने उनके खिलाफ मोर्चा ही खोल दिया।

तो वहीं मुख्यमंत्री योगी  आदित्यनाथ ने भी मीडिया से बात करते हुए कहा कि नौ अगस्त को गोरखपुर प्रवास के दौरान उन्होंने इन्सेफेलाइटिस, डेंगू, चिकुनगुनिया, स्वाइन फ्लू और कालाजार जैसे मुददों पर अधिकारियों से बातचीत की थी और उनसे पूछा था कि उनकी आवश्यकता क्या है और क्या उन्हें किसी तरह की कोई समस्या है लेकिन आक्सीजन आपूर्ति से जुड़ा मुद्दा उनके संज्ञान में नहीं लाया गया । उन्होंने कहा, ””बैठक में मेडिकल कालेज के प्रिंिसपल भी मौजूद थे । मैंने पूछा कि कोई मुद्दा हो या समस्या हो तो बतायें लेकिन वहां आक्सीजन को लेकर कोई जिक्र नहीं किया गया । हम लोगों की जानकारी में नहीं लाया गया । ंिप्रसिपल उसी दिन रात में रिषीकेश चले गये … प्रथम दृष्टया ंिप्रसिपल को इसके लिए जिम्मेदार पाया गया और उन्हें निलंबित कर दिया गया है ।”” योगी ने गोरखपुर से लौटे अपने दो मंत्रिमंडलीय सहयोगियों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आपात बैठक के बाद एक प्रेस कांफ्रेंस की । प्रेस कांफ्रेंस में केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल, राज्य के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ ंिसह और चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन भी मौजूद थे ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग