ताज़ा खबर
 

राष्ट्रगान: क्रिकेटर गौतम गंभीर का तंज- रेस्तरां के बाहर खड़ा होना मंजूर, लेकिन 52 सेकंड के लिए नहीं

एक ने लिखा फिल्म के टिकट के लिए घंटो लाइन में लग जाएंगे लेकिन वहीं 52 सेकंड खड़े नहीं हो सकते।
Author नई दिल्ली | October 27, 2017 16:51 pm
भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर

इन दिनों देश में सिनेमाघरों में राष्ट्रगान को बजाए जाने के बाद उसके सम्मान में खड़ा होना विवाद का विषय बन गया है। सिनेमाघरों में राष्ट्रगान के समय खड़े न होने पर मारपीट किए जाने के कई मामले सामने आए हैं। वहीं हाल ही में मशहूर अभिनेता कमल हसन ने भी सार्वजनिक स्थलों पर राष्ट्रगान बजाए जाने को लेकर कड़ी नाराजगी जताई थी। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए कहा था की देशभक्ति दिखाने के लिए दवाब न बनाया जाए और न ही देशप्रेम से जुड़ी उनकी परीक्षा ली जाए। एक तरफ तो कमल हसन जैसे कलाकार राष्ट्रगान का सार्वजनिक स्थलों पर बजाए जाने का विरोध कर रहे हैं तो वहीं कई मशहूर लोग ऐसे भी हैं जो कि इन लोगों को करारा जवाब दे रहे हैं। हम बात कर रहे हैं भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर की।

गौतम गंभीर ने राष्ट्रगान का विरोध करने वाले लोगों पर तंज कसते हुए अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा “क्लब के बाहर 20 मिनट तक खड़े होकर इंतजार कर सकते हैं, आधे घंटे तक किसी रेस्तरां के बाहर खड़े होकर इंतजार कर सकते हैं लेकिन 52 सेकंड तक राष्ट्रगान के लिए खड़ा होना काफी कठिन है”। अपने इस ट्वीट के जरिए गौतम कहना चाहते हैं कि लोग क्लब और रेस्तरां में अपनी बारी का इंतजार करने के लिए आधे घंटे तक इंतजार तो कर सकते हैं लेकिन ऐसे लोग राष्ट्रगान के लिए 52 सेकंड तक खड़े नहीं हो सकते।

गंभीर के इस ट्वीट पर कई यूजर्स अपनी प्रतिक्रिया देते हुए उनकी तारीफ कर रहे हैं। एक ने लिखा फिल्म के टिकट के लिए घंटो लाइन में लग जाएंगे लेकिन वहीं 52 सेकंड खड़े नहीं हो सकते। एक ने लिखा बहुत सही कहा सर, हर कोई इसे राजनीतिक रंग देने की कोशिश कर रहा है लेकिन यह बेहद ही शर्मनाक है। यह सभी के लिए अनिवार्य होना चाहिए। इस तरह कई लोगों ने गंभीर के ट्वीट पर अपनी तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं दी। कुछ यूजर्स ने यह भी कहा कि यह सही बात है की राष्ट्रगान का सम्मान होना चाहिए लेकिन अपनी राष्ट्रीयता या देशप्रेम साबित करने के लिए जबरदस्ती नहीं होनी चाहिए। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट भी कह चुका है कि देशभक्ति साबित करने के लिए सिनेमाघर में राष्ट्रगान बजने के दौरान खड़ा होना जरुरी नहीं है। इसके साथ ही कोर्ट ने केंद्र सरकार से सिनेमाघरों में राष्ट्रगान बजाने को नियंत्रित करने के लिए नियमों में संशोधन पर विचार करने को कहा है।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.