December 11, 2016

ताज़ा खबर

 

फेसबुक ने मुस्लिम शब्‍द को ट्रांसलेशन में बताया मां की गाली, सोशल मीडिया पर पड़ी लताड़

लोगों ने चैक‍ किया कि मुस्लिम शब्‍द को किसी भी वाक्‍य या शब्‍द के साथ लिखने पर उसका मतलब वह गाली के रूप में ही देता है।

फेसबुक पर एक गड़बड़ी के चलते मुस्लिम शब्‍द को ट्रांसलेट करने पर हिंदी में दी जाने वाली मां की गाली लिख दिया गया।

फेसबुक पर एक गड़बड़ी के चलते मुस्लिम शब्‍द को ट्रांसलेट करने पर हिंदी में दी जाने वाली मां की गाली लिख दिया गया। इस बारे में सोशल मीडिया में काफी हंगामा हुआ। कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर स्‍क्रीनशॉट शेयर किया है और इसे अब तक का सबसे अपमानजनक ट्रांसलेशन बताया है। लोगों ने चैक‍ किया कि मुस्लिम शब्‍द को किसी भी वाक्‍य या शब्‍द के साथ लिखने पर उसका मतलब वह गाली के रूप में ही देता है। हालांकि लगातार शिकायतें मिलने के बाद फेसबुक ने इसमें सुधार किया है और मां की गाली लिखने पर उसकी जगह इडियट लिखा आता है। सोशल मीडिया यूजर्स ने इस पर फेसबुक को जमकर लताड़ा। सोशल मीडिया पर इस मामले के सामने आने पर फेसबुक ने बयान जारी किया और कहा कि यह सब बग के कारण हुआ जिससे गलत अर्थ निकल रहा था।

ATM/डेबिट कार्ड फ्रॉड से बचना चाहते हैं, तो इन आसान बातों का रखें ध्यान:

उसकी ओर से कहा गया, ”पोस्‍ट का ट्रांसलेशन एक ऑटोमेटेड सिस्‍टम के जरिए होता है। हमारी ट्रांसलेशन टीम ने इस पर काम किया है और उन्‍होंने हमारे सिस्‍टम में ईश निंदा शब्‍द को फिल्‍टर कर रखा है जिससे एक पोस्‍ट का एक हिस्‍सा गलत ट्रांसलेट हो गया। टीम ने इस ट्रांसलेशन को ठीक कर दिया है और इस तरह के खराब ट्रांसलेशन में सुधार करने के लिए काम कर रही है।” हालांकि फेसबुक ने यह नहीं बताया कि वह किस तरह से ट्रांसलेट करता है। हालांकि 2012 में उसकी ओर से बताया गया था कि वह दुनियाभर में मौजूद अपने वॉलंटियर्स से मदद लेती है। गौरतलब है कि पहली बार नहीं है जब इंटरनेट बेस्‍ड कंपनी ने भारत में इस तरह की गड़बड़ी की है। इससे पहले एंटी नेशनल टाइप किए जाने पर गूगल जेएनयू और जाधवपुर यूनिवर्सिटी को शो करता था।

facebook, muslim word, muslim hindi expletive,facebook translate, social media

facebook, muslim word, muslim hindi expletive,facebook translate, social media

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 22, 2016 4:38 pm

सबरंग