December 07, 2016

ताज़ा खबर

 

बाबा रामदेव पर यह ट्वीट कर फंसे दिग्विजय सिंह, लोग बोले- सीनियर नेता होकर फर्जी खबर शेयर करते हो

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने बाबा रामदेव की एक फोटो को ट्विटर पर शेयर किया जिसके लिए वह निशाने पर आ गए।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने बाबा रामदेव से जुड़ी एक खबर शेयर की थी।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने बाबा रामदेव की एक फोटो को ट्विटर पर शेयर किया जिसके लिए वह निशाने पर आ गए। रामदेव की एक पुरानी फोटो को एक फर्जी खबर के साथ गलत तरीके से पेश किया जा रहा था। खबर में लिखा था कि नोटबंदी के बाद बैंक की लाइन में लगे-लगे बाबा रामदेव को चक्कर आ गए और वह बेहोश होकर गिए गए। खबर के साथ रामदेव की 2011 वाली एक तस्वीर शेयर की गई थी। वह तस्वीर तब की थी कि जब रामदेव ने काले धन से जुड़े मुद्दे के लिए भूख हड़ताल की थी। खबर का लिंक शेयर करते हुए दिग्विजय सिंह ने मंगलवार (22 नवंबर) को लिखा, ‘पीएम मोदी के समर्थन में बैंक की लाइन में लगे रामदेव कुछ ही देर में गश खा कर हुए बेहोश यह कैसा योगी है ?’ इसपर लोगों ने उन्हें घेर लिया।

एक ने लिखा, ‘झूठाधिराज, पैर कब्र में है फिर भी झूठ बोल रहे हो,अफवाह फैला रहे हो, नरक मिलेगा तुम्हें’, दूसरे ने लिखा, ‘क्यों फर्जी खबरों से भृमित करते हो दिग्गी चाचा,कल केजरी सड़जी ने भी ऐसा ही नाटक किया था बाद में गालियां खाकर ट्वीट डिलीट किया’, तीसरे ने लिखा, दिग्गी चाचा थोड़ा टाइम निकालोगे तो पता लगेगा देश में क्या चल रहा है। वहीं चौथे ने लिखा, ‘यह फोटो 2011 में बाबा रामदेव के अनशन के वक्त ली गई थी। आप सीनियर नेता होकर फर्जी खबरें फैला रहे है। ‘

गौरतलब है कि मोदी सरकार द्वारा 8 नवंबर को नोटबंदी का ऐलान किया गया था। उसमें बताया गया था कि 500 और 1000 के नोट 30 दिसंबर 2016 के बाद से नहीं चला करेंगे। इसके साथ ही 2000 और 500 रुपए के नए नोटों के आने की जानकारी भी दी गई थी। तब से ही बैंक और एटीएम के बाहर लोगों की लाइन खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। लोग अपने नोट बदलवाने के लिए बैंकों के चक्कर काटने को मजबूर हैं।

दिग्विजय सिंह ने यह ट्वीट किया था-

digvijaya
इसपर लोगों ने ऐसे जवाब दिए –

 

इस वक्त की ताजा खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

वीडियो: उपचुनाव नतीजे: MP में BJP जीती, पुदुचेरी में कांग्रेस और त्रिपुरा में CPM जीती

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 22, 2016 2:38 pm

सबरंग