ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी बोले- शेरो-शायरी का बजट है, लोगों ने कहा- उसे इकॉनि‍मक्‍स कहते हैं, आप नहीं समझे

राहुल गांधी के बयान को उनके कार्यालय के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से पोस्‍ट किया गया।
राहुल ने बजट को ‘शेरो-शायरी का बजट’ बताया है। (Source: Twitter)

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा पेश किए गए आम बजट को नकार दिया है। गांधी ने मीडिया से बातचीत में कहा, ”शेरो-शायरी का बजट है, किसानों के लिए कुछ नहीं किया, युवाओं के लिए कुछ नहीं किया।” हालांकि राहुल ने यह भी कहा कि ‘राजनैतिक दलों को मिलने वाले फंड को साफ-सुथरा रखने के लिए उठाए गए किसी भी कदम का कांग्रेस स्‍वागत करेगी।’ राहुल का मानना है कि ‘नोटबंदी के बाद जो झटका सरकार ने गरीबों, किसानों, व्यापारियों को दिया बजट में उनके लिए कुछ नही किया।’ राहुल गांधी के बयान को उनके कार्यालय के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से भी डाला गया। राहुल ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ”भारत आज नौकरियों की कमी से जूझ रहा है और भारत इससे कैसे निपटेगा, इसका कोई विजन नहीं है। हम कुछ पटाखों की उम्‍मीद कर रहे थे, मगर सब फुस्‍स हो गए।”

राहुल ने कहा, ”नोटबंदी के बाद जो झटका गरीबों को मारा, उसके बाद हम लोगों को उम्‍मीद थी कि गरीब, युवाओं, बेरोजगारों के लिए कुछ किया जाए, मगर कोई विजन नहीं दिख रहा है। जेटली जी ने अच्‍छा भाषण दिया, मगर उससे विजन कुछ साफ नहीं है। वित्‍त मंत्री का काम होता है कि चौड़ा रास्‍ता दिखाए। इसके लिए हिंदुस्‍तान के सामने दो-तीन इशु हैं, एक इशु है कि हिंदुस्‍तान के युवा को रोजगार कैसे दिया जाए, नरेंद्र मोदीजी ने बहुत बड़े भाषण दिए। पिछले साल डेढ़ लाख युवाओं को रोजगार मिला। दो करोड़ की बात की थी, इस पर कुछ नहीं बोले। दूसरी बात- किसान रो रहा है, किसान को कर्जा माफ करने की जरूरत है।’

राहुल यहीं नहीं थमे, उन्‍होंने मोदी सरकार पर हमले जारी रखते हुए कहा, ”बड़े-बड़े भाषण दिए कि किसानों की सरकार है , कुछ नहीं किया। जेटली जी ने कोई गहरी चीज नहीं बोली।” राहुल ने मोदी पर भी निशाना साधा, उन्‍होंने कहा, ‘मोदीजी ने पहली स्‍पीच में लंबा भाषण दिया, बुलेट ट्रेन आई, नहीं आई। रेलवे में फंडामेंटल प्रॉब्‍लम क्‍या है, सेफ्टी। सेफ्टी रिकॉर्ड इस सरकार का रेलवे में सबसे खराब है, उसके बारे में कुछ नहीं बोला।”

राहुल गांधी के बयान को जब ट्विटर पर शेयर किया गया तो यूजर्स ने उन्‍हें घेर लिया, लोगों ने क्‍या कहा, आप खुद देखिए: