ताज़ा खबर
 

बीजेपी द्वारा बदले जा रहे नामों पर दिग्विजय ने ऐसे लेनी चाही चुटकी, लेकिन हुए ट्रोल

यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजा है कि वे मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम जनसंघ के नेता दीन दयाल उपाध्याय के नाम पर रखना चाहते हैं।
Author नई दिल्ली | August 11, 2017 17:55 pm
कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह। (फोटो-PTI)

केंद्र की बीजेपी सरकार इन दिनों मार्गों के नाम बदलने के साथ-साथ अब स्टेशन के नाम में भी परिवर्तन कर रही हैं। यूपी की योगी आदित्य नाथ सरकार ने केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजा है कि वे मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम जनसंघ के नेता दीन दयाल उपाध्याय के नाम पर रखना चाहते हैं। इस मामले को लेकर राज्यसभा में काफी हंगामा हुआ था। वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भी इस मामले को लेकर बीजेपी का मजाक उड़ाना चाहा लेकिन उन्हें क्या पता था कि ऐसा करने पर लोग उनकी ही जमकर खिंचाई करने लगेंगे। दिग्विजय सिंह ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कल रेस्तरां में वेटर ने बताया कि मुग़लई परांठे का नाम भी अब से पंडित दीन दयाल परांठा हो गया है। दिग्विजय के इस ट्वीट पर कई लोग तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं देकर उनकी काफी खिंचाई कर रहे हैं।

दिग्विजय सिंह को जवाब देते हुए एक यूजर ने लिखा कल ट्रेन में टीटीई ने बताया कि शौचालय में चैन से बंधे मग का नाम अब से दिग्विजय हो गया है। एक ने लिखा उम्मीद करते है कि देशभक्तों के नाम वाले परांठे खाकर तुम जैसे नमकहराम कांग्रेसियों के अंदर बह रहे गंदे खून और नीच सोच का शुद्धिकरण होगा। एक ने लिखा कल राज्यसभा सांसद ने बताया कि दिग्गी का नाम भी अब से पिग्गी हो गया है- बरखा का ड्राइवर। एक ने लिखा आंख जब से खुली तब से नेहरू परिवार के ही नाम से सड़क, हॉस्पिटल, स्कूल और कॉलेज देखकर ऐसा लगा कि अंग्रेजों से मुक्ति के बाद नेहरू परिवार गुलामी कर रहे हैं। इसी तरह कई लोगों ने इस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं।

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत तमाम भाजपा नेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की तारीफ करते रहते हैं। उपाध्याय राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और भारतीय जनसंघ के प्रमुख विचारों में एक थे। पीएम मोदी भी उनके चिंतन-वचन को अपनी प्रेरणा बता चुके हैं। 2017 उपाध्याय का शताब्दी वर्ष है इसलिए भाजपा ने उत्तर प्रदेश में घर-घर जाकर उपाध्याय के विचारों को पहुंचाने का संकल्प किया है और इसके लिए उपाध्याय की जयंती 25 सितंबर तक कई विशेष कार्यक्रमों का आयोजन भी कर रही है।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग