ताज़ा खबर
 

काग्रेस ने बीजेपी पर लगाया RTI कानून खत्म करने का आरोप, यूजर्स का ट्विटर पर फूटा गुस्सा

बीजेपी आरटीआई कानूनों को इतना जटिल और कठिन बनाना चाहती है ताकि आम आदमी को सूचना लेने में बहुत कठिनाइयां महसूस हों।
सूचना का अधिकार।

कांगे्रस ने सोमवार को आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी की सरकार आरटीआई कानून खत्म करने की कोशिश कर रही है। पार्टी ने कहा कि सरकार के इस कदम का वह पूरा जोर लगाकर विरोध करेगी। कांगे्रस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा कि कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग की वेबसाइट पर सूचना का अधिकार कानून के मसौदा नियम डाले गये हैं। उन्होंने इन मसौदा नियमों के जरिये आरटीआई कानून को जटिल बनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा की सरकार सत्ता में आने के बाद पिछले 34 महीनो ंसे लगातार इस कानून को अनौपचारिक तरीके से कमजोर करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने पार्टी के नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सरकार आरटीआई कानून को खत्म करना चाहती। वह इस कानून के आधार पर खत्म नहीं करना चाहती बल्कि वह नियमों को इतना जटिल और कठिन बनाना चाहती है ताकि आम आदमी को सूचना लेने में बहुत कठिनाइयां महसूस हों। तिवारी ने कहा कि प्रगतिशील ताकतों का यह दायित्व बनता है कि इन मसौदा नियमों का विरोध किया जाए। आरटीआई कानून को किसी भी तरह कमजोर करने या बदलने की कोशिशों का पूरा जोर लगाकर विरोध किया जाए। इसके बाद सोमवार रात को ट्विटर पर #BJP_Killing_RTI ट्रेंड करने लगा। कई यूजर्स ने इस खबर के बाद बीजेपी को आड़े होथों लिया।