December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

नोटबंदी: दसवें दिन ट्विटर पर फूटा लोगों का गुस्सा,बोले- 15 लाख मांगकर गलती कर दी, लेकिन अब छुट्टा तो दे दो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नोटबंदी के ऐलान के बाद से लोग परेशान हैं। खुल्ले पैसों के लिए मारा-मारी का आलम यह है कि लोगों का कई-कई दिन तक रोजाना बैंक जाने के बावजूद नंबर नहीं आ रहा है।

शुक्रवार (18 नवंबर) को ट्विटर पर #छुट्टा_दे_दे_रे_मोदी ट्रेंड कर रहा था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नोटबंदी के ऐलान के बाद से लोग परेशान हैं। खुल्ले पैसों के लिए मारा-मारी का आलम यह है कि लोगों का कई-कई दिन तक रोजाना बैंक जाने के बावजूद नंबर नहीं आ रहा है। सोशल मीडिया पर भी लगातार सरकार के लिए गुस्सा देखा जा सकता है। शुक्रवार (18 नवंबर) को ट्विटर पर #छुट्टा_दे_दे_रे_मोदी ट्रेंड कर रहा था। इस ट्रेंड पर लोग अपनी-अपनी परेशानी बताकर मोदी को घेर रहे हैं। किसी ने लिखा, ‘मेरा देश बदला रहा है, लाइन में लग रहा है’, दूसरे ने लिखा, ‘गलती हो गयी अब 15 लाख नहीं मांगेंगे, मगर छुट्टा तो दे दो।’, तीसरे ने लिखा, ‘बहुत दिन हो गए Ice Cream खाये हुए । अब तो छुट्टा दे दो’ एक ने लिखा, ‘आज भी मोदी की हवा नहीं, आंधी है..क्या ये अच्छे दिन नहीं, ATM की कतार में राहुल गांधी है!’ एक ट्वीट में कहा गया, ‘भाजपा के फैसलों का सम्मान करो, बेशक तुम्हारे घर में खाने पीने का सामान खत्म हो रहा हो, आवाज़ निकली तो देशद्रोही बनोगे’, एक लड़की ने लिखा, ‘मेड को ,दूध वाले को ,अखबार वाले , धोबी को ,स्वीपर को चेक से पेमेंट करूं ? ‘

गौरतलब है कि 8 नवंबर को नोटबंदी लागू होने के बाद से लोगों को राहत नहीं है। बैंकों और एटीएम के बाहर लगी भीड़ खत्म होने का नाम नहीं ले रही। सरकार लोगों की परेशानी को देखकर अपने प्लान और नियम में लगातार बदलाव कर रही है। गुरुवार को भी कुछ परिवर्तन किए गए थे। अब बैंकों से 4500 रुपए की जगह सिर्फ 2000 रुपए निकाले जा सकते हैं। हालांकि, उन लोगों को राहत दी गई है जिनके घर में शादी है। शादी वाला परिवार शादी का कार्ड दिखाकर अब एक अकाउंट से 2.5 लाख रुपए तक निकाल सकता है।

नोटबंदी पर विपक्ष लगातार मोदी सरकार को निशाना बनाए हुए है। एक तरफ बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी दिल्ली की सड़कों पर प्रदर्शन कर रही हैं वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी सरकार पर हमले करते रहते हैं। वह दो बार पैसे बदलने के लिए बैंक-एटीएम भी जा चुके हैं। पूछे जाने पर उन्होंने कहा था कि वह लोगों का दर्द महसूस करने के लिए लाइन में लगे।

देखिए हैशटैग पर कैसे-कैसे मैसेज किए जा रहे हैं –

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 18, 2016 1:43 pm

सबरंग