ताज़ा खबर
 

ममता बनर्जी ने मुस्लिम को बनाया मंदिर ट्रस्ट अध्यक्ष, हिंदू महासभा बोली- हिंदू को बनाएं वक्फ बोर्ड का प्रमुख

अध्यक्ष बनाए गए मंत्री फरहाद हकीम पाकिस्तानी अखबार के पत्रकार से बंगाल के लिए मिली पाकिस्तान जैसा शब्द प्रयोग कर चुके हैं।
पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का एक फैसला विवादों में घिरता नजर आ रहा है। ममता ने गुरुवार को राज्य के हुगली जिले में स्थित प्रसिद्ध तारकेश्वर मंदिर बोर्ड का अध्यक्ष एक मुसलमान को बना दिया है। इस बात को लेकर काफी विवाद गहराता नजर आ रहा है। मंदिर बोर्ड मंदिर के रख रखाव के अतिरिक्त मेडिकल कॉलिज और विश्विविद्यालय का संचालन भी करता है। मुख्यमंत्री ने बोर्ड अध्यक्ष बनाने के साथ ही पांच करोड़ रुपए भी बोर्ज को दिए है। हालांकि हिंदू समुदाय में मंदिर ट्रस्ट का अध्यक्ष गैर हिंदू को बनाए जाने से रोष बताया जा रहा है।

ट्रस्ट के अध्यक्ष ममता सरकार में मंत्री फरहाद हकीम इससे पहले भी विवादों में रह चुके है। फिरहाद ने पाकिस्तानी अखबार डॉन के एक पत्रकार से बंगाल को मिनी पाकिस्तान कहकर संबोधित किया था।  इसी मुद्दे पर टीवी बहस पर काफी तीखी बहस सुनने को मिली। इसके बाद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने कहा है कि अगर ममता सरकार ने अपना फैसला नहीं बदला तो वो हाई कोर्ट का रुख करेंगे। वहीं हिंदू महासभा का कहना है कि वक्फ बोर्ड का कानून कहता है कि वक्फ बोर्ड का अध्यक्ष वो ही बनेगा जो मुस्लिम होगा। अगर हिम्मत है तो वक्फ बोर्ड का अध्यक्ष हिंदू को बनाकर दिखाए।  इस मामले पर बीजेपी ने भी आपत्ति की है और ममता पर एक वर्ग विशेष के तुष्टिकरण का आरोप लगाया है।

 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग