December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

VIDEO: देश के लिए बीएसएफ जवान ने लिखी दिल छू लेने वाली कविता, सोशल मीडिया पर हो रही शेयर

जम्मू-कश्मीर के उरी स्थित सेना मुख्यालय में हुए आतंकी हमले में भारतीय सेना के 19 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद से पूरे देश में आतंकवाद और आतंक को बढ़ावा देने वाले पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा है।

बीएसएफ जवान ने लिखी देश के लिए कविता (Photo Source: Jugal R Purohit/Twitter)

जम्मू-कश्मीर के उरी स्थित सेना मुख्यालय में हुए आतंकी हमले में भारतीय सेना के 19 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद से पूरे देश में आतंकवाद और आतंक को बढ़ावा देने वाले पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा है। भारत ने इस हमले का बदला सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए लिया और आतंकियों के कई ठिकानों को ध्वस्त कर दिया। हालांकि बार्डर पर बेगुनाह सैनिकों का खून अभी भी रही है। यही, कारण है कि कई सैनिक सोशल मीडिया के जरिए अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं। भारतीय सैनिक द्वारा जारी किए गए वीडियो ‘कश्मीर तो होगा, लेकिन पाकिस्तान नहीं होगा’ के वायरल होने के बाद अब बीएसएफ के जवान की एक कविता सामने आई है।

सैनिकों की वीरता और साहस को लेकर बीएसफएफ के जवान की कही गई इस कविता ने इंटरनेट पर लोगों को दिल जीत लिया है। वीडियो में सैनिक खुद को यूपी के मैनपुरी का रहने वाला कॉन्सटेबल राघवन सिंह बताते हुए कहता कि देश के लिए कुछ करना है ये ठान के खड़ा हूं, बंदूकों के यारों आगे सीमा तान के खड़ा हूं।” ट्विटर पर इस वीडियो को शेयर किया जा रहा है। इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि जवान और उसके साथी खाना खा रहे हैं और वह उसी दौरान यह कविता सुना रहा है। पाकिस्तान की ओर से आए दिन हो रहे सीजफायर वॉयलेशन का मुंहतोड़ जवाब देने और आतंकियों द्वारा की जा रही घुसपैठ को रोकने के लिए बीएसएफ के जवान सीमा पर तैनात है।

गौरतलब है उरी हमले के बाद से सोशल मीडिया पर भारतीय जवानों की बहादुरी बयां करते हुए वीडियो जमकर शेयर किए जा रहे हैं। ऐसा ही एक वीडियो फेसबुक और ट्विटर पर खूब शेयर किया जा रहा है, इसमें पैरामिलिट्री फोर्सेज का एक जवान, अपनी बस में खड़ा होकर पड़ोसी मुल्‍क पाकिस्‍तान को साफ-सीधे शब्‍दों में कह रहा है कि ‘कश्‍मीर तो होगा लेकिन पाकिस्‍तान नहीं होगा” इस वीडियो को अब तक लाखों लोग देख चुके हैं और हजारों बार शेयर किया जा चुका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 8, 2016 11:46 am

सबरंग