ताज़ा खबर
 

बीजेपी नेता ने पाकिस्तानी वकील को लगाई झाड़, बोले- भारत ने कसाब को दिये थे दो वकील और आप कुलभूषण जाधव को सीधे फांसी का फरमान सुना रहे हैं

जासूसी के आरोप में पाकिस्तान द्वारा भारत के पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव की फांसी को लेकर सोमवार को अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में सुनवाई चल रही है।
भारतीय नेवी के पूर्व अफसर कुलभूषण जाधव।

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता सुधांसु त्रिवेदी ने कहा है कि भारत ने आतंकी कसाब का केस भी खुले कोर्ट में चलाया था तो पाकिस्तान किस मुंह से कुलभूषण जाधव के मामले में बिना किसी सुनवाई के फांसी का फैसला सुना सकता है। दरअसल जासूसी के आरोप में पाकिस्तान द्वारा भारत के पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव की फांसी को लेकर सोमवार को अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में सुनवाई चल रही है। भारत ने जाधव की फांसी के फैसले को लेकर कड़ी ऐतराज जताते हुए कोर्ट के सामने इसे रद्द करने की मांग की है। भारत ने कहा कि कुलभूषण जाधव को फांसी देना मानवाधिकार का उल्लंघन है। साथ ही वियना समझौते का उल्लंघन है। भारत का पक्ष रखते हुए हरीश साल्वे ने इंटरनेशनल कोर्ट के सामने कहा कि मानवाधिकार और अतंराष्ट्रीय कानून के आर्टिकल 36 में कांसुलर एक्सेस (राजनयिक मुलाकात) का अधिकार है, लेकिन कुलभूषण के मामले में इन नियमों का पालन नहीं किया गया। हमारे (भारत) काफी अनुरोध के बाद भी पाकिस्तान की ओर से जाधव से मिलने की इजाजत नहीं दी गई।

इसी मुद्दे पर हिंदी न्यूज चैनल आज तक पर एक डिबेट का प्रोग्राम रखा गया था। पाकिस्तान का पक्ष रखने के लिए इस कार्यक्रम में पाकिस्तान के वकील फवाद हुसैन चौधरी जुड़े थे तो वहीं बीजेपी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी भी सरकार का पक्ष रखने मौजूद थे। बीजेपी प्रवक्ता ने पाकिस्तानी वकील को लगभग झाड़ लगाते हुए कहा कि जो आमिर अजमल कसाब हिंदुस्तान का गुनेहगार था, उसके कर्मों को पूरी दुनिया ने देखा। उसने सबके सामने तमाम मासूस हिंदुस्तानियों को मौत के घाट उतार दिया हमने उसके लिए भी कोर्ट ट्रायल करवाया था। उसको दो-दो वकील दिये गए थे और आप बिना किसी सुनवाई के किसी को भी फांसी पर कैसे लटका सकते हैं।

 

सुधांसु त्रिवेदी यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे ये भी कहा कि अपनी इन्हीं हरकतों के कारण आज पाकिस्तान की पूरी दुनिया में थू-थू हो रही है। पाकिस्तान को कम से कम मानवाधिकारों का तो ध्यान रखना चाहिए।

इंटरनेशनल कोर्ट ने लगाई कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा पर रोक; सुषमा स्वराज ने जाधव की मां को खुद दी जानकारी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग