March 27, 2017

ताज़ा खबर

 

अरविंद केजरीवाल ने कहा- यूपी चुनाव में BJP से बदला लेगी जनता, लोगों ने पूछे चुटीले सवाल

केजरीवाल और उनकी पार्टी नोटबंदी के फैसले का जमकर विरोध कर रही है।

केजरीवाल का दावा है कि यूपी की जनता विधानसभा चुनावों में भाजपा को सबक सिखाएगी। (Photo: PTI)

आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने आगामी उत्‍तर प्रदेश चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की करारी हार की भविष्‍यवाणी की है। उन्‍होंने ट्विटर पर लिखा है कि उत्‍तर प्रदेश की जनता केंद्र सरकार के नोटबंदी से फैसले से बहुत परेशान है। केजरीवाल ने कहा कि 2017 में होने वाले विधानसभा चुनावों में जनता बैंकों व एटीएम के बाहर लाइन में बिताए एक-एक मिनट का हिसाब भाजपा से लेगी। उन्‍होंने ट्वीट में लिखा, ”UP की जनता नोटबंदी से बेहद नाराज़। विधानसभा चुनाव में भाजपा से लाइन में बिताए एक एक मिनट का बदला लेगी।” केजरीवाल और उनकी पार्टी नोटबंदी के फैसले का जमकर विरोध कर रही है। खुद ‘आप’ भी उत्‍तर प्रदेश चुनावों में ताल ठोकेंगी, ऐसे में अरविंद प्रदेश में विपक्षियों में निशाना साध जमीन बनाने की कोशिश कर रहे हैं। गुरुवार को केजरीवाल ने नोटबंदी पर दो कार्टून भी शेयर किए थे, जिसमें नरेंद्र मोदी सरकार के इस फैसले की आलोचना की गई थी। इस पर ट्विटर यूजर्स ने उन्‍हें घेर लिया था।

केजरीवाल ने यूपी चुनाव पर ट्वीट क्‍या किया, यूजर्स ने अपने-अपने तर्कों के साथ उन्‍हें जवाब दिया। सुमित मिश्रा नाम के यूजर ने पूछा, ”क्या ये बदला महाराष्ट्र और गुजरात की जनता सरीखा होगा जिसने हालिया चुनावों में भाजपा को पूर्ण समर्थन दिया?” ऋषि ने कहा कि ‘आपने ऐसा ही कुछ गुजरात के लोगों के लिए भी कहा था, लेकिन उन्‍होंने बीजेपी की बजाय ‘आप’ से बदला ले लिया।’ एक यूजर ने लिखा, ‘बदले की बात न ही करो तो अच्‍छा है। दिल्‍ली की जनता यही आस लगाए बैठी है।’

रवि तिवारी ने लिखा, ”तुम्हारे से दिल्ली की जनता हिसाब लेगी। झूठे वादे करके एक भी वादे पूरे नही किये हो। जनता जबाब मांगेगी या झाड़ू मारेगी।” धीरेंद्र ने कहा, ”इसकी चिंता आपको क्यों हो रही है यह तो भाजपा की चिंता का विषय है दिल्ली की जनता के बारे मे सोचो जिसने CM बनाया है।”

देखें, ट्विटर पर यूजर्स ने क्‍या दिया जवाब:

अरविंद केजरीवाल का कहना है कि केंद्र सरकार का 500, 1000 के नोट बंद करने का फैसला कालाधन, भ्रष्टाचार, जाली नोटों के प्रसार और आतंकवाद को वित्त पोषण पर रोक लगाने में नाकाम रहा है। उन्‍होंने 29 नवंबर को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में आरोप लगाया था कि भाजपा ने नोटबंदी के कदम से पहले बिहार और अन्य राज्यों में जमीन खरीद कर अपने कालेधन को ठिकाना लगा दिया।

सेलरी डे: दिल्‍ली और पंचकूला में बैंकों, एटीएम के बाहर लगी लंबी कतारें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on December 1, 2016 3:44 pm

  1. A
    Abu talib
    Dec 1, 2016 at 4:44 pm
    कांग्रेस बड़ा झटका देगी सभी अचंभित रह जाएंगे ! मौक़ापरस्त अभी से सोच लें अगर पार्टी बदलनी है तो !
    Reply
    1. D
      Deepak Bhatt
      Dec 2, 2016 at 8:48 am
      अगर मोदी जी ये बोलने लग जाय की शौच के बाद हाथ ठीक से धो ले तो केजरीवाल जी तुरन्त हाथ चाट लेगें., ये कैसा विरोध है वो तीन साल पहले के याद रखो जब दिल्ली में लोगों को क्या सपने दिखाये थे, अब सबसे गिरी हुई राजनीति में उतर आये हो, तुम्हे परखने में देर कर दी जिसे सोना ममझा वो ादा निकला जो सिर्फ जलाने के काम आ सकता है, सब्र करो भाई पहले दिल्ली को देख लो, लोकसभा चुनाव में तुम्हे अतिमहत्वकॉक्षा ही ले गयी.ये हर बात पर विरोध की राजनीति करके क्या जता रहे हो.
      Reply
      1. A
        Anoooooop
        Dec 1, 2016 at 5:45 pm
        Kejriwal ji dehli dekho aap per bharosa karke dehli ki janta NE vote diya...poore Desh ka sapna mat dekho .khastaur PR up ka.
        Reply
        1. L
          Lucky Singh
          Dec 1, 2016 at 2:36 pm
          Ha ha ha ha 😃😃😃😃Free/ haram k chatuo ki aapa k GAN me KHADABAAL khujane laga hai free mein 😃😃😃😃
          Reply
          1. B
            bimal jain
            Dec 1, 2016 at 12:22 pm
            यू पी चुनाव खुद लड़ कर देख ले
            Reply
            1. i
              indian(ncr)
              Dec 2, 2016 at 10:07 am
              कांग्रेस और आप पार्टी दोनों एक ही हैं यदि जरूरत पड़ी तो एक होकर दिल्ली में दूबारा सरकार बनाएंगे | यदि पंजाब विधानसभा चुनाव में किसी दल को बहूमत नहीं आया तो फिर कांग्रेस और आप दोनो मिलकर सरकार बनायेगे
              Reply
              1. A
                ANAND
                Dec 2, 2016 at 9:42 am
                HE SANSAR KE SABSE BADE NAUTANKIBAAZ AB KITNA GIROGE ..KITNI DIRTY POLITICS KHELOGE..TUM DELHI KI JANAT KO TO SAMBHAL NAHI PATE AUR BAKI JAGAH KA THEKA LE RAHE HO..AGAR TUMHARE ANDAR THODI BHI SHARM BACHI HAI TO JAKAR UP KE CHUNAV MEIN HISSA LO...BAKE PHATE MEIN TANG DALNA TUMHARE KHOON MEIN LAGTA HAI..SHARM KARO besharm insaan......
                Reply
                1. C
                  CITIZEN OF
                  Dec 2, 2016 at 4:58 am
                  धोका देना और पीठ में चुरा भोकना अरविन्द का ब्लड कल्चर है.टोपी मफलर खासी इसका नाटक है..सुबह के सैर पे ये एडिडास का ट्रैक सूट एंड ईफ़ोन प्रयोग करता ही लेकिन ऑफिस में अपना हुलिए चेंज कर देता ही..नौटंकी..ये इंटरव्यू भी सेटिंग कर के देता ही..भगत सिंह का फोटो लगा कर भगत बनता ही..पता नई क्या खता ही की इसके जबान से ओनली गन्दगी ही निकलता ही एंड दूसरे पे डाउट करना एंड लोगो को गुमराह करना इसका शगल ही..इसके डीएनए के टेस्ट की जरूरत है पता नई ये इंसान है की ............?
                  Reply
                  1. S
                    suresh k
                    Dec 1, 2016 at 4:01 pm
                    ये भी पी ऍम बनना चाहते है , एक नाम लिखा जाये
                    Reply
                    1. Load More Comments

                    सबरंग