ताज़ा खबर
 

प्रदूषण से बेहाल दिल्‍ली में पूरे दिन रहा ”अंधेरा”, लोगों ने अरविंद केजरीवाल के साथ-साथ नरेंद्र मोदी सरकार को भी घेरा

सर्दियों और दिवाली पर पटाखों के प्रदूषण के चलते दिल्‍ली बुधवार सुबह धुंध में लिपटी नजर आई।
दिल्‍ली-एनसीआर में बुधवार को दिनभर धुंध छाई रही। (Source: Twitter)

दिल्‍ली और आस-पास के क्षेत्रों में घनी धुंध के चलते जनजीवन पर खासा असर देखने को मिल रहा है। दोपहर 12 बजे तक भी दिल्‍ली के आसमान में ‘अंधेरा’ छाया हुआ है।सर्दी और दिवाली पर पटाखों के प्रदूषण के चलते दिल्‍ली में बुधवार की सुबह धुंध में लिपटी नजर आई। कई जगहों पर विजिबिल्‍टी 200 मीटर से भी कम रही। दिल्‍ली के साथ ही एनसीआर में भी धुंध का असर देखने को मिला। रोड पर चलने वाले लोगों को इस ‘अंधेरे’ की वजह से खासी परेशानी उठानी पड़ी। पंजाब में तो अमृतसर एयरपोर्ट घने कोहरे के चलते बंद कर दिया गया। इधर सर्दी ने भी उत्‍तरी भारत में दस्‍तक दे दी है। सुबह और शाम के तापमान में अच्‍छी-खासी कमी देखने को मिल रही है। दिल्‍ली में हर तरफ धुंध और धूल से परेशान लोगों ने बुधवार को सोशल मीडिया पर अपना गुस्‍सा जाहिर किया। लोगों ने दिल्‍ली सीएम अर‍विंद केजरीवाल से लेकर पीएम नरेंद्र मोदी तक को घेरा। दिल्‍ली-एनसीआर में रहने वालों लोगों ने #delhipollution हैशटैग चलाकर अपनी प्रतिक्रिया दी। पारुल ने पीएमओ इंडिया, नरेंद्र मोदी और अरविंद केजरीवाल को टैग करते हुए लिखा, ”दिल्‍ली में हर जगह धुंध और धूल है, सांस नहीं ली जा रही।” वहीं पल्‍लवी ने कहा कि ”हमें जंग की जरूरत नहीं, हम खुद को ऐसे ही मार डालेंगे।” पियाली दासगुप्‍ता ने लिखा, ”ये गंदा स्‍लेटी आसमान उदास करता है। लगातार ऐसी बदबू है जैसे कुछ जल रहा है, मेरा बुरी तरह दम घुटता है।” मानस ने लिखा कि ”दोपहर में भी अंधेरा छाया है, फ्लाइट्स में देरी है, क्‍या कोई सुन रहा है @PMOIndia?”

दिल्‍ली-नोएडा फ्लाइवे को लेकर हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, देखें वीडियो: 

दिल्ली की गिनती दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में होती है। पिछले साल भी यहां पर सर्दियों में प्रदूषण खतरनाक स्‍तर पर पहुंच गया था। जिसके बाद चलते दिल्‍ली सरकार ने ऑड ईवन नियम शुरू किया था लेकिन इससे कोई खास असर नहीं पड़ा। उल्‍टे एनजीटी ने दिल्‍ली सरकार को लताड़ लगाई थी कि इस दौरान प्रदूषण और बढ़ गया।

दिल्‍ली सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार दिवाली के दिन कार्बन मोनोक्‍साइड की रेंज 2.0-4.2 माइक्रोग्राम प्रति क्‍यूबिक मीटर के बीच दर्ज की गई थी। पिछली दिवाली पर यह आंकड़ा 1.1-4.0 माइक्रोग्राम प्रति क्‍यूबिक मीटर के बीच था।

साेशल मीडिया पर आईं लोगों की प्रतिक्रियाएं: 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग