December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

अरनब गोस्‍वामी को फेयरवेल पार्टी में टाइम्‍स नाऊ के कर्मचारियों ने दिलचस्‍प अंदाज में किया विश, देखें वीडियो

अरनब गोस्‍वामी के लिए टाइम्‍स नाऊ में काम का आखिरी दिन 18 नवंबर था। वे टाइम्‍स नाऊ के एडिटर इन चीफ थे और न्‍यूजआवर शो के प्रजेंटर थे।

अरनब गोस्‍वामी टाइम्‍स नाऊ के एडिटर इन चीफ थे। (File Photo)

अरनब गोस्‍वामी के लिए टाइम्‍स नाऊ में काम का आखिरी दिन 18 नवंबर था। वे टाइम्‍स नाऊ के एडिटर इन चीफ थे और न्‍यूजआवर शो के प्रजेंटर थे। कामकाज के आखिरी दिन साथियों ने अरनब को जोरदार विदाई दी। टाइम्‍स नाऊ के कर्मचारियों ने इस दौरान अरनब को उनकी कई आक्रामक बहसों और उनके संवादों की याद दिलाई। इस दौरान टाइम्‍स नाऊ के कर्मचारियों ने हाथों में तख्तियां ले रखी थीं और उनमें शो से जुड़ी कई बातें लिखी हुई थी। फेयरवेल के दौरान सारे कर्मचारी सनग्‍लासेज पहनकर आए थे। क्‍योंकि अरनब न्‍यूजआवर के दौरान सनग्‍लासेज ही पहना करते थे। गौरतलब है कि अरनब ने एक नवंबर को इस्‍तीफा दिया था। वे अपना चैनल लॉन्‍च करने जा रहे हैं। अरनब का शो ‘न्‍यूजआवर’ लगातार (अच्‍छे या बुरे कारणों से) चर्चा में रहा। अरनब देश के पहले पत्रकार थे, जिन्‍होंने सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू लिया था।

इस्‍तीफा देने के बाद उन्‍होंने अपने साथियों से कहा था कि खेल अब शुरू हुआ है। अरनब ने बताया कि उनका नया प्रोजेक्‍ट बीबीसी और सीएनएन के लिए कड़ी चुनौती साबित होगा। इस्तीफे के बाद बुलाई गई मीटिंग में लगभग 50 लोगों शामिल थे। मीटिंग का हिस्सा रहे एक वरिष्ठ पत्रकार ने बताया कि गोस्वामी ने लगभग एक घंटे तक बात की और बताया कि उन्होंने किस तरह टाइम्स नाऊ को इस बुलंदियों तक पहुंचाया है। हालांकि अरनब ने मीटिंग में किसी भी तरह के फ्यूचर प्लान के बारे में नहीं बताया। वरिष्ठ पत्रकार ने कहा कि अरनब ने बस “स्वतंत्र मीडिया के सपने” का जिक्र किया। अरनब ने कहा कि वह वर्तमान समय में चल रही टीवी मीडिया में अटके नहीं रहना चाहते। उन्होंने डिजिटल मीडिया का जिक्र करते हुए कहा कि वह ऐसा बदलाव लाना चाहते हैं जिससे पूरा मीडिया प्रभावित होगा। अरनब ने यह भी कहा कि वह समय के साथ चलना चाहते हैं, लेकिन वर्तमान में वह ऐसा नहीं कर पा रहे थे।

अरनब गोस्वामी ने अपना करियर 1995 में कोलकाता स्थित दैनिक द टेलीग्राफ से शुरू किया था। लेकिन वे टेलीग्राफ में ज्यादा दिन नहीं रहे और उसी साल दिल्ली स्थित एनडीटीवी से जुड़ गए। उस समय वो डीडी मेट्रो पर आने वाले एनडीटीवी के कार्यक्रम न्यूज टुनाइट के लिए रिपोर्टिंग किया करते थे। जब 1998 में एनडीटीवी स्वतंत्र टीवी चैनल के तौर पर लॉन्च हुआ तो वो चैनल में प्रोग्राम प्रोड्यूसर के तौर पर जुड़े। एनडीटीवी पर वो न्यूज आवर कार्यक्रम लेकर आते थे। उन्होंने 2003 तक इस कार्यक्रम के लिए एंकरिंग की। गोस्वामी ने 2006 में टाइम्स नाऊ के एडिटर इन चीफ बनकर चले गए। तभी से वो चैनल की प्राइम टाइम डिबेट द न्यूजआवर को होस्ट कर रहे थे।

देखिए अरनब गोस्‍वामी केे फेयरवेल का वीडियो:

अरनब गोस्‍वामी: द न्‍यूजऑवर पर इन 5 बहसों ने खूब बटोरीं सुर्खियां:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 19, 2016 7:11 pm

सबरंग