ताज़ा खबर
 

अरविंद केजरीवाल को निशाने पर लिया तो अन्ना हजारे पर ही टूट पड़े कई लोग

यह देखकर दुख हो रहा है कि भ्रष्टाचार निरोधक अभियान में उनके साथी रहे अरविंद केजरीवाल पर धन लेने के आरोप लगे हैं।
Author May 8, 2017 06:31 am
सामाजिक कार्यकर्ता अण्णा हजारे। (फाइल फोटो)

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने अपने गांव रालेगण सिद्धि में अरविंद केजरीवाल पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों पर अपनी टिप्पणी दी। उन्होंने कहा कि उन्हें यह देखकर दुख हो रहा है कि भ्रष्टाचार निरोधक अभियान में उनके साथी रहे अरविंद केजरीवाल पर धन लेने के आरोप लगे हैं। हजारे ने संवाददाताओं से कहा, दिल्ली सरकार में जो चल रहा है वह मेरे लिए दुखद है। यह देखकर दुख हो रहा है कि भ्रष्टाचार निरोधक अभियान में मेरे पूर्व सहयोगी रहे केजरीवाल पर धन लेने के आरोप लग रहे हैं। उन्होंने कहा, मैं पिछले 40 वर्षों से भ्रष्टाचार निरोधक अभियान का हिस्सा रहा हूं। केजरीवाल बाद में मेरे साथ आए और राज्य चुनावों में हमें सफलता मिली। वास्तव में दिल्ली चुनाव में जीत दिल्ली में गंभीर भ्रष्टाचार के खिलाफ प्रचार के कारण हुई। लेकिन आज उन्हीं पर धन लेने के आरोप लग रहे हैं जो मेरे लिए काफी दुखदायक है। उनके इस बयान के बाद कुछ ट्विटर यूजर्स अन्ना को निशाने पर ले लिया। अन्ना हजारे को लेकर काफी आलोचनात्मक बातें कहीं गई।

दिल्ली कांग्रेस के प्रमुख अजय माकन ने केजरीवाल के इस्तीफे की मांग की और कहा कि पार्टी ने भ्रष्टाचार विरोधी मुद्दे को खो दिया है। केजरीवाल के खिलाफ मिश्रा के आरोपों को काफी गंभीर बताते हुए उन्होंने कहा कि सीबीआई और भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को आरोपों का संज्ञान लेना चाहिए। उन्होंने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, मिश्रा के आरोपों के परिप्रेक्ष्य में केजरीवाल को मुख्यमंत्री बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं है। उन्हें पद छोड़ देना चाहिए। इस बीच युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के मुख्यमंत्री आवास के बाहर प्रदर्शन किया और आरोपों की सीबीआई जांच की मांग की। संगठन ने मांग की कि जांच चलने तक केजरीवाल को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

इससे पहले मिश्रा ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि, मैंने अपनी आंखों से सत्येन्द्र जैन को अरविन्द केजरीवाल को उनके आवास पर दो करोड़ रूपये की नकदी देते हुए देखा है। जब मैंने केजरीवाल से सवाल किया तो, उन्होंने कहा, राजनीति में ऐसी चीजें होती रहती हैं और इसका खुलासा बाद में किया जाएगा। जैन ने व्यक्तिगत रूप से मुझे बताया था कि उन्होंने केजरीवाल के रिश्तेदार के पक्ष में 50 करोड़ रूपये का भूमि सौदा करवाया है। जब मैंने केजरीवाल से इस बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि यह झूठ है और मुझसे उनपर विश्वास रखने को कहा। हालांकि सीएम केजरीवाल ने आरोपों पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है, लेकिन उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और यहां तक कि कुमार विश्वास ने भी इसे निराधार बताया।
सिसोदिया ने संवाददाताओं से कहा, ह्यह्यआरोप बेबुनियाद हैं और वे प्रतिक्रिया के लायक नहीं हैं। उन्हें खराब काम करने की वजह से हटाया गया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. R
    rajendrs
    May 8, 2017 at 9:37 am
    anna: spy agent of BJP.
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग