ताज़ा खबर
 

नोटबंदी: नाराज लोगों ने ट्विटर पर पीएम मोदी को घेरा, कहा- बाबा को व्यापारी बना दिया और व्यापारियों को बाबा, कमाल है

500 और 1000 रुपए के नोट बंद होने के बाद से लोग परेशान हैं। 19 वें दिन भी लोगों को राहत मिलती नजर नहीं आई।
ट्विटर पर #अंधेर_नगरी_चौपट_मोदी ट्रेंड कर रहा।

500 और 1000 रुपए के नोट बंद होने के बाद से लोग परेशान हैं। 19 वें दिन भी लोगों को राहत मिलती नजर नहीं आई। रविवार होने की वजह से 27 नंवबर को बैंक बंद थे। ऐसे में एटीएम के बाहर लंबी लाइन थी। ऐसे में लोग लगातार मोदी सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साध रहे हैं। ट्विटर पर मोदी सरकार को निशाना बनाने के लिए रविवार (27 नवंबर) को #अंधेर_नगरी_चोपट_मोदी ट्रेंड कर रहा था। इसपर पीएम मोदी को नोटबंदी समेत बाकी कई मुद्दों के लिए घेरा जा रहा है। एक ने लिखा, ‘कमाल की सरकार है।एक बाबा को व्यापारी बना दिया और व्यापारियों को बाबा बना दिया।’ दूसरे ने लिखा, ‘दिन-रात काले धन वालों के साथ उठने,बैठने,सोने वाले काला-धन मिटाने का संकल्प बार बार दोहरा रहे हैं’, तीसरे ने पीएम मोदी के शीलकालीन सत्र में संसद ना जाने को लेकर निशाना बनाते हुए लिखा, ‘भाषण वही पर करंगे जहा कोई सवाल या चर्चा न करे, ना सांसद ना मिडिया सिर्फ चुनावी रैली और रेडियो’

मोदी सरकार द्वारा 8 नवंबर को नोटबंदी का एलान किया गया था। मोदी द्वारा किए गए एलान में कहा गया था कि 30 दिसंबर के बाद से 500 और 1000 रुपए के नोट अमान्य हो जाएंगे। लोगों से उनके नोटों को बैंकों में जमा करने के लिए कहा गया था। हालांकि, कुछ जगहों पर नोटों को चलाने की इजाजत मिली थी। जिसे 24 नवंबर के बाद से बंद कर दिया। अब सिर्फ 500 रुपए के नोट ही चल सकते हैं। वह भी सिर्फ 15 दिसंबर तक। वहीं 1000 के नोटों को अब बैंक में ही जमा करवाना होगा।

बैंकों और एटीएम के बाहर लगी लाइन खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। आम लोगों के अलावा विपक्षी दल भी सरकार को निशाने पर लेने का मौका नहीं छोड़ रहे। संसद में शीतकालीन सत्र की कार्यवाही भी इस वजह से नहीं हो पा रही। आठ दिन से संसद में हंगामे के अलावा कोई काम नहीं हुआ है। विपक्षी दल लगातार पीएम मोदी को संसद में आकर बहस करने की चुनौती दे रहे हैं।

देखिए #अंधेर_नगरी_चोपट_मोदी पर कैसे-कैसे ट्वीट आ रहे हैं –