December 06, 2016

ताज़ा खबर

 

नोटबंदी पर नीतीश कुमार के समर्थन पर अमित शाह ने कहा शुक्रिया, ट्विटर यूजर्स ने ली चुटकी

नीतीश ने प्रधानमंत्री से बेनामी संपत्ति रखने वालों पर भी ऐसा ही हमला करने की सलाह दी थी।

सोशल मीडिया पर भी यूजर्स ने इस पर चुटकी ली है।

भारतीय जनता पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह ने बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को ‘धन्‍यवाद’ दिया है। शाह ने काले धन के खिलाफ लड़ाई में पीएम नरेंद्र मोदी का समर्थन करने पर नीतीश का अभिनंदन किया है। शाह ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया, ”काले धन के खिलाफ लड़ाई में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का समर्थन करने पर मैं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी का अभिनन्दन करता हूं|” इसके बाद उन्‍होंने लिखा, ”मोदी सरकार द्वारा 500 और 1000रुपए के पुराने नोट बंद करने के निर्णय का समर्थन करने के लिए मैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को धन्यवाद देता हूं।” नीतीश ने रविवार को विपक्षी दलों द्वारा 28 नवंबर को बुलाए गए भारत बंद में शामिल न होने का ऐलान किया। नीतीश ने केंद्र सरकार के कदम की तारीफ करते हुए कहा था कि ”नोटबंदी का यह कदम कोई साधारण कदम नहीं, बहुत ‘साहसिक कदम’ है पर इसे लागू करने के लिए तैयारी और की गयी होती तो किसी को कठिनाई नहीं होती।”

केंद्र सरकार के नोटबंदी के फैसले पर पूरा विपक्ष विरोध में हैं लेकिन नीतीश एकमात्र नेता हैं जो इसका समर्थन कर रहे हैं।इससे पहले, बिहार में पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत में नीतीश ने कहा था, ”प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शेर की सवारी कर रहे हैं जिससे उनका गठबंधन बिखर सकता है लेकिन उनके कदम के पीछे भावना सही है। हमें इसका सम्‍मान करना चाहिए।”

नीतीश ने प्रधानमंत्री से बेनामी संपत्ति रखने वालों पर भी ऐसा ही हमला करने की सलाह दी थी। उन्‍होंने कहा था, ”मैं इसका हिमायती हूं। दो नंबर का जाली नोट अपने आप इससे समाप्त हो जाएगा। बेनामी संपत्ति रखने वाले लोगों पर भी केंद्र सरकार को जल्द से जल्द हमला करना चाहिए।”

अमित शाह के ट्वीट पर यूजर्स ने मजेदार रिएक्‍शन दिए। एक नजर:

नीतीश ने कहा कि वे गंभीरतापूर्वक यह समझते हैं कि कालाधन पर रोक की दिशा में विमुद्रीकरण एक सकारात्मक कदम है पर उतना ही शिद्दत से यह महसूस करते हैं कि इसे लागू करने के पूर्व आवश्यक तैयारी नहीं की गयी थी।

समूचे विपक्ष से अलग राय रखने से जुड़े सवाल पर नीतीश ने कहा, ”अपनी राय रखना किसी की मजबूरी नहीं होती। अलग अलग लोगों की अपनी-अपनी राय होती है। उसे रखने से हमें रोक दीजिएगा, जो बात मुझे ठीक लगती है उसे मैं पुरजोर तरीके से रखता हूं।”

वीडियो: नोटबंदी की आलोचना करने वालों पर पीएम मोदी बोले- “उन्हें तकलीफ ये है कि उन्हें तैयारी का मौका नहीं मिला”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 27, 2016 5:01 pm

सबरंग