ताज़ा खबर
 

दागी नेताओं को टिकट देकर ट्विटर पर घिरे अखिलेश यादव, लोगों ने की जमकर खिंचाई

उत्‍तर प्रदेश के चुनावों में सपा ने कांग्रेस के साथ गठबंधन किया है।
ट्विटर पर अखिलेश सरकार पर भ्रष्‍टाचार के आरोप मढे जा रहे हैं। (Source: Twitter)

समाजवादी पार्टी ने उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए प्रत्‍याशियों के नाम घोषित कर दिए हैं। मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने कई दागी चेहरों को टिकट दिया है। यूपी कैबिनेट में मंत्री रहे गायत्री प्रजापति पर भ्रष्‍टाचार और धमकी देने के कई आरोप हैं, उन्‍हें टिकट मिला है। सोशल मीडिया पर सपा की इस लिस्‍ट पर बाकायदा एक ट्रेंड चल रहा है, जिसपर बीजेपी के कई नेताओं ने भी ट्वीट किए हैं। #AkhileshForCorruption हैशटैग के साथ बताया जा रहा है कि सपा ने भ्रष्‍टाचारियों को टिकट दिया है और अखिलेश उन्‍हें बचा रहे हैं। कई ग्राफिक्‍स, तस्‍वीरों के जरिए अखिलेश की खिंचाई की जा रही है। शोभ‍ित ने लिखा है, ”5 करोड़ की लैंबॉर्गिनी से फर्राटा भरते हैं अखिलेश के छोट भाई, दागी गायत्री के साथ करते हैं कारोबार, यही है समाजवाद।” मनोज दुबे ने कहा, ”समाजवादी गुंडे 5 साल भ्रष्टाचार करते रहे अब साइकिल पंचर जरूर होगी।” रितेश ने कई ट्वीट्स में कहा, ”अखिलेश सरकार में की ऑक्सीजन सिलेंडरों में हेराफेरी, हर महीने 64,000 रुपये का घोटाला। मुख्यमंत्री अखिलेश के राज में नेता, विधायक जमीन हथियाने में व्यस्त, सपा नेताओं ने हड़पी लाखों की जमीन।”

उत्‍तर प्रदेश के चुनावों में सपा ने कांग्रेस के साथ गठबंधन किया है। राज्‍य में सपा 298 तथा कांग्रेस 105 सीटों पर लड़ रही है। भारत संघवी ने इसी हैशटैग के साथ लिखा है, ”ड्रामा करने की वजह साफ थी। अखिलेश के पास पांच साल में हुए खुले भ्रष्टाचार का कोई जवाब नहीं था।” एक ट्रोल अकाउंट ने ट्वीट किया, ”जब खुद भ्रष्टाचार करोगे और जनता को शिक्षा, रोजगार और सुशासन नही दोगे तो कुकर, दाल, चावल, आटा और घी तो देना ही पड़ेगा।” एक अन्‍य ट्वीट में कहा गया, ”गायत्री की मौजूदगी में अखिलेश की पहली चुनावी सभा से सपा का चरित्र और चाल दोनों का सच सामने आ गया है।”

देखें ट्विटर पर जारी इस धींगामुश्‍ती की कुछ झलकियां: