ताज़ा खबर
 

महज एक इंच का है पेनिस तो कंपनी ने नौकरी पर रखा और वसूल ली ”पूरी कीमत”

हमारे समाज में छोटे गुप्तांगों का होना अपमानजनक माना जाता है। लोग उस पर तरह-तरह के टिप्पणी भी करते हैं।
एंट स्मिथ ‘द स्मॉल पेनिस बाइबल’ के लेखक हैं। (फोटो सोर्स- यू-ट्यूब)

मेडिकल टेस्टिंग कंपनी (THRIVA) ने हाल ही में एंट स्मिथ नाम के एक शख्स को ब्रांड अबेंसडर के रूप में चुना है। एंट स्मिथ ‘द स्मॉल पेनिस बाइबल’ के लेखक हैं। बता दें कि एंट स्मिथ के पास महज एक इंच का पेनिस है और यही वजह है कि उन्हें कंपनी ने ब्रांड अबेंसडर का काम सौंपा है। एंट स्मिथ ब्रिटेन के रहने वाले हैं। हमारे समाज में छोटे गुप्तांगों का होना अपमानजनक माना जाता है। लोग उस पर तरह-तरह के टिप्पणी भी करते हैं। मेडिकल टेस्टिंग कंपनी (THRIVA) का मकसद लोगों के अंदर से इस भावना को निकालना है। इसलिए उन्होंने अपने विज्ञापनों में एंट स्मिथ की तस्वीरों के साथ लिखा है कि छोटा पेनिस होना गलत नहीं है। लोगों को इस बात को छिपाने की या इसकी वजह से शर्मिंदगी झेलने की जरूरत नहीं है। एंट पेनिस के छोटे आकार से हमेशा डरे रहते थे। एंट बताते हैं कि जब वह 18 साल की उम्र के थे तो वह अपने एक दोस्त के साथ कुश्ती खेली थी।

खेल के दौरान उनके दोस्त ने कहा था कि तेरे पास तो कुछ है ही नहीं। इस बात को सुनकर एंट को काफी निराश हो गए औऱ उनके अंदर एक डर बैठ गया। एंट के लिए किशोरावस्था में ये शर्मिंदगी लगातार बनी रही। एंट ने कहा कि उनके लिए लड़कियों से बात करना काफी मुश्किल होता था जब भी वह किसी लड़की के पास जाते तो उनके मन में बस इसी बात का डर सताता रहता था।

50 साल के एंट अब कंपनी के माध्यम से लोगों के अंदर जागरुकता फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। कंपनी के फाउंडर Hamish Grierson का कहना है कि मेडिकल टेस्टिंग कंपनी (THRIVA) लोगों के बीच हेल्थ को लेकर जागरुक करने के साथ-साथ भेदभाव के अंतर को भी कम करने का काम करती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.