May 29, 2017

ताज़ा खबर

 

नरेंद्र मोदी सरकार के तीन साल: ट्विटर यूजर्स ने साधा निशाना- रोता किसान, बेरहम सरकार

कांग्रेस ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने इन तीन साल में भाजपा ने देश के अन्नदाताओं के साथ धोखा किया है।

ट्विटर पर #3yearsFarmersInTears ट्रेंड चलाकर मोदी सरकार की आलोचना की जा रही है। (Source: Twitter)

केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार के तीन साल पूरे हो चुके हैं। 16 मई, 2014 को आए चुनाव नतीजों में बीजेपी को स्‍पष्‍ट बहुमत मिला था। तीन सालों में नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व वाली एनडीए सरकार की उपलब्धियां देश के सामने रखने की तैयारी बीजेपी कर रही है। मगर सोशल मीडिया पर विरोधियों ने सरकार की नाकामियां गिनानी शुरू कर दी हैं। शनिवार (20 मई) को कांग्रेस ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार के तीन साल पूरे हो गए हैं। इन तीन साल में भाजपा ने देश के अन्नदाताओं के साथ धोखा किया है और उनके बच्चों का भविष्य जमाखोरों के हवाले कर दिया है। उप्र कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर के साथ कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने लखनऊ में पत्रकारों से बातचीत के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि हर साल 12 हजार से ज्यादा किसान देश में आत्महत्या कर रहे हैं। यह आंकड़ा 2014 में बढ़कर 14 हजार हो गया। आज हमारे देश की 62 फीसदी आबादी किसान है। इस प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के बाद ट्विटर पर #3yearsFarmersInTears ट्रेंड करने लगा। इस हैशटैग के प्रयोग के साथ मोदी राज में किसानों के बदतर हालात पर सवाल उठाए गए हैं।

ट्विटर पर कांग्रेस समर्थकों की ओर से तस्‍वीरें, वीडियोज, ग्राफिक्‍स और आंकड़े ट्वीट कर बताया जा रहा है कि कैसे मोदी सरकार में किसानों की हालत और खस्‍ता हुई है। लोगों ने नौकरियां कम होने और किसानों की आत्‍महत्‍या के बढ़ते मामलों पर भी सवाल किए हैं। लोगों ने क्‍या कहा, देखिए।

सुरजेवाला ने कहा कि उप्र में किसानों की ऋणमाफी की घोषणा कर वाहवाही लूटने का छलावा किया गया। सच तो यह है कि उप्र के 2 करोड़ 15 लाख छोटे और सीमांत किसान परिवारों में से सिर्फ 886.68 लाख किसान ही बैंकिंग व्यवस्था के दायरे में आते हैं। उन्होंने कहा, “देश के इतिहास में पहली बार यूपी की योगी सरकार ने राज्यपाल के अभिभाषण में संशोधन किया। हमने मांग की है कि यूपी के किसानों की ऋण माफी पर सरकार श्वेतपत्र जारी करे।”

सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा ने सत्ता में आने से पहले उप्र में 80 लाख टन गेहूं खरीदने का वादा किया था, लेकिन अब तक सिर्फ 7 लाख टन गेंहू सरकार ने खरीदा है। इस पर योगी सरकार अपना मत स्पष्ट करे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 20, 2017 5:58 pm

  1. S
    Summer
    May 21, 2017 at 1:46 am
    Lo Ab to bhakt kisano ko Bhi galiya dene large.UPA k samaye sarkar galat aur MODI samaye kisan ki niyaat par sawal.Bahkto ki jai.
    Reply
    1. S
      Satish kumar
      May 20, 2017 at 10:26 pm
      Ye sab rajneeti Kisan loan leta to use bharta q NHI Kha jata loan ka paisa Jis p sab rajneeti krte h k loan MAAF NHI kiya Kya loan liya jata h Sirf MAAF KRNE k lite?
      Reply

      सबरंग